उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
ऑपरेशन क्लीन-7
ऑपरेशन क्लीन-7|google
देश

आखिर क्या है ऑपरेशन क्लीन-7, आज ही जान लें वरना गाड़ी चलाना पड़ जाएगा महंगा

नोएडा पुलिस ने सड़को पर मनमाने तरीके से चल रही वाहनों को रोकने के लिए ऑपरेशन क्लीन 7 की मुहिम छेड़ी है। 

Puja Kumari

Puja Kumari

आप जब भी अपने घरों से बाहर निकलते होंगे तो सड़को पर अपना स्वैग दिखाने के लिए कुछ ऐसे बाइक व कार चालक दिख जाते होंगे जिनका सारा गुरूर ही उनके नंबर प्लेट पर शो करता है। जी हां उदाहरण के तौर पर आपको बता दें कि कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने नंबर प्लेट पर जाति का नाम जैसे (गुर्जर, जाट, राजपूत, क्षत्रिय) राजनीतिक पार्टी का नाम, या फिर किसी तरह के कार्टून व कलाकारी का प्रयोग करते हैं जबकि ऐसा करना यातायात नियम के खिलाफ है।

जो लोग ऐसा करते हैं वो बस अपने शौक व रूआब झाड़ने के लिए करते हैं। अगर आपमें से भी किसी को इस तरह का शौक है तो जनाब आप भूल से भी यूपी के अंदर अभी प्रवेश मत करिएगा। जी हां क्योंकि बीते दिन 7 जुलाई को नोएडा पुलिस ने इसके खिलाफ एक अभियान चलाया जिसके जरिए लगभग 1,457 लोगों का चलान काटा गया।

क्या है 'ऑपरेशन क्लीन-7'

जिस अभियान के बारे में हम बात कर रहे हैं उसका नाम 'ऑपरेशन क्लीन-7' है। इस अभियान के तहत नोएडा पुलिस ने महज 3 घंटों में हजारों गाड़ियों पर कार्रवाई की जिसमें ऐसी गाड़ियां शामिल थीं, जिनके नंबर प्लेट पर कलाकारी व जातिसूचक शब्द लिखे हुए थें व कुछ कारें ऐसी भी थीं जिन्होने काले शीशे का प्रयोग किया था।

पुलिस ने इनमें से कुछ गाड़ियों को जब्त कर लिया और दो पहिया वाहनों को चालान काटकर नए नंबर प्लेट लगवाने की हिदायत दी। हालांकि पहली बार इस अभियान पर नोएडा पुलिस ने काम किया है लेकिन आने वाले समय में हो सके तो देशभर में ये ऑपरेशन चलाया जाए इसलिए आप पहले ही सावधान हो जाए। यह भी सच है कि ऐसे वाहनों पर कार्रवाई करने के लिए लोग यातायात पुलिस और परिवहन विभाग से गुहार लगा रहे थें पर देर से ही सही लेकिन अब जाकर पुलिस जागी।

इस अभियान पर काम करने के बाद नोएडा पुलिस ने अपने ट्वीटर हैंडल पर एक तस्वीर भी शेयर की जिसमें उन गाड़ियों के नंबर प्लेट की तस्वीरें दिख रही थीं जिनपर जातिसूचक शब्द व काले फिल्म लगे हुए थे। नोएडा पुलिस ने ये तस्वीर शेयर करते हुए लिखा की जनपद गौतमबुद्धनगर में ऑपरेशन क्लीन-7 के जरिए सभी दूषित नम्बर प्लेट या फिर बिना नम्बर प्लेट वाले गाड़ियों के अलाव काली फिल्म लगे गाड़ियों पर एक्शन लिया जा रहा है।

नंबर प्लेट 
नंबर प्लेट 
google

नंबर प्लेट को लेकर बने हैं ये कड़े नियम

आपको शायद पता नहीं होगा लेकिन नंबर प्लेट को लेकर भी कड़े नियम कानून हैं। ऐसा नहीं है कि इसे आप अपने मन से जैसा चाहें वैसा लगा सकते हैं। इसके लिए भी परिवहन विभाग ने मानक तय किए हैं।

सेंट्रल मोटर व्हिकल रूल्स, 1989 के अनुसार दो पहिया व तीन पहिया वाहनों के नंबर प्लेट का आकार 200/100 MM होना चाहिए। लाइट मोटर व्हिकल या फिर पैसेंजर कार के लिए इसका आकार 500/120 MM होना चाहिए। भारी भरकम कमर्शियल गाड़ियों के लिए उसके नंबर प्लेट का आकार 340/200 MM तय किया गया है।

ये तो हो गई नंबर प्लेट के साइज की बात लेकिन इसके अलावा फॉन्ट को भी लेकर नियम बनाए हैं जिसमें बताया गया है कि अगर आपके नंबर प्लेट में कुछ ऐसी कलाकारी है जिससे नंबर देखने में असुविधा हो रही है या फिर आपके अंको का डिजाइन कुछ ऐसा है जिससे नंबर सही से समझ नहीं आ रहा है तो ये भी गैरकानूनी माना गया है।

इन नियमों व अभियान को गंभीरता से लेने का अर्थ ये है कि भले ही आपकी जाति या धर्म आपके लिए किसी मेडल की तरह हो लेकिन भूल से भी आप इसे अपने नंबर प्लेट पर न दर्शाएं क्योंकि ऐसा करना गैर कानूनी है।