उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Dwarka delhi rape case
Dwarka delhi rape case|Twitter
देश

अब दिल्ली के द्वारिका में मोहम्मद नन्हे ने 6 साल की बच्ची के साथ की दरिंदगी, सीसीटीवी फुटेज से पकड़ा गया ! 

तमाम मुद्दों पर मुखर बात रखने वाले सो काल्ड बुद्धिजीवियों की जमात इस मामले पर कुछ भी कहने से बची हुई है

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

वास्तव में अब यह कहना गलत नही होगा कि महिलाओं और बच्चियों की जान और इज्जत दोनो खतरे में है, अलीगढ़, हमीरपुर, बाराबंकी और रोज न जाने कहाँ के बाद देश की राजधानी फिर शर्मसार हो गयी, द्वारिका सेक्टर 23 में बुलंदशहर निवासी मोहम्मद नन्हे वल्द जाहिद ने 6 वर्षीय बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने लेजाकर अपनी हवस का नंगा नाच पेश किया ,और फूल सी बच्ची के साथ बेहद दरिन्दगी बरती !

बच्ची का पिता दिहाड़ी मजदूर है और माँ दूसरों के घरों में बर्तन मांज कर जीवन यापन करती है, तीन माह पहले पड़ोस में ही बुलंदशहर से मोहम्मद नन्हे ने आकर डेरा जमाया, मोहम्मद नन्हे भले ही बुलंदशहर से दिल्ली रोजी रोटी कमाने के लिए आया था लेकिन वह यहां पर रहकर भी कोई नियमित काम नही करता था, वह मुहल्ले के आवारा लोगो मे गिना जाता था !

2 जुलाई की  दोपहर को जब बच्ची अपने घर के बाहर खेल रही थी तभी मोहम्मद नन्हे की नीयत बदल गयी और बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने बहला कर घर से दूर ले गया, और कुकर्म को अंजाम दिया,बच्ची के काफी देर तक गायब रहने से घरवालों को चिंता हुई और पुलिस को सूचना दी , पुलिस ने पास में लगे सीसीटीवी की फुटेज देखकर संदिग्ध को खोज निकाला,और खून से लथपथ बच्ची को बरामद किया !

ट्विटर पर मुकेश सिंह सेंगर ने सीसीटीवी फुटेज जारी किया है

नजदीकी अस्पताल में लेकर जाने पर डॉ ने सफदरजंग के लिए रिफर कर दिया जहां पर अभी भी बच्ची की हालत नाज़ुक बनी हुई है।

बच्ची के प्राइवेट पार्ट की नसों, अंदरूनी ऊतकों को भीषण नुकसान पहुचा है, पेट, और कमर के निचले हिस्से में  दांतो से काटा गया है, हाँथ, पैर और गुप्तांगों में भी काटने और नोचने के निशान पाए गए है,

पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है, लेकिन आरोपी को लेकर लोगो मे भयानक रोष व्याप्त है, लोगो के अनुसार "यह बच्ची हिंदुओ की है और आरोपी मुस्लिम, इस लिए इस मिडडे को कोई सही तरीके से नही उठा रहा है, यही मामला अगर दूसरे धर्म का होता तो अभी तक लोगो द्वारा आसमाँ सर पर उठ गया होता। लेकिन ये तो जेहादी हैं और इनके खिलाफ बोलने वाला कोई नहीं है

मामले की संगीनता को देखते हुए भारी मात्रा में पुलिस बल मौके पर तैनाथ किया गया है,

देखने वाली बात ये है कि तमाम मुद्दों पर मुखर बात रखने वाले सो काल्ड बुद्धिजीवियों की जमात इतनी बड़ी घटना के मामले पर मुँह में दही जमाये बैठे हैं।