उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
भारत-नेपाल बॉर्डर 
भारत-नेपाल बॉर्डर |Social Media
देश

नेपाल ने सीमा पर रोके फल और सब्जियों से भरे ट्रक

नेपाल के नए नियम के तहत काठमांडू में लैब टेस्ट के बाद ही भारतीय फलों और सब्जियों को NOC मिल सकेगी  

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

महाराज गंज पर नेपाल के बॉर्डर स्थित नेपाल कस्टम विभाग ने सैकड़ों फल एवं सब्जी के ट्रक अंदर जाने से रोक दिए है। नेपाल के संबंधित अधिकारियों ने सब्जी के और फलों के नमूने प्रयोगशाला में बार-बार फेल हो जाने के कारण यह कदम उठाया है।

महाराज गंज स्थित बॉर्डर में नेपाल के कस्टम अधिकारियों ने यह कह कर ट्रकों को नेपाल में जाने से रोक दिया कि जाने वाले हर ट्रक के फलों और सब्जियों के नमूनों के लैब में पास होने पर एनओसी दी जाएगी , और उसके बाद ही उन्हें नेपाल में जाने की अनुमति दी जाएगी, जिस कारण से नेपाल बॉर्डर पर जाम सी स्थिति उत्पन्न हो गयी।

औने-पौने दाम पर बेचे जा रहे हैं फल और सब्जियां

ट्रक चालकों ने फल और सब्जियों के खराब होने की स्थिति को भांप कर औने पौने दामों में लोकल निवासियों को फलों और सब्जियों को बेचना मुफीद समझा, इस बाबत सब्जी और फलों के ठेकेदारों ने महराजगंज के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अवगत कराया है।

रासायनिक उर्वरकों के बेहताशा उपयोग के परेशान होकर नेपाल ने यह कदम उठाया है। जिस से भारत के व्यापारी वर्ग को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। यही स्थिति भारत मे भी है। लेकिन लोकल लेवल पर भारत मे यह समस्या मुँह पसारे खड़ी है। लेकिन न ही खाद्य विभाग कोई उचित कदम उठा पा रहा है ना ही सरकारें।