उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
धार्मिक भेदभाव वाला मामला
धार्मिक भेदभाव वाला मामला|Google
देश

मुस्लिम महिलाओं को नहीं मिली मेट्रो में एंट्री, कारण जानकर आपको भी ऐतराज होगा 

धार्मिक भेदभाव वाला मामला है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में धार्मिक भेदभाव का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जिसमें एक ही परिवार की पांच मुस्लिम महिलाओं को मेट्रो में प्रवेश सिर्फ इसलिए नहीं करने दिया गया क्योंकि उन पांच मुस्लिम महिलाओं ने बुर्का हटाने से इनकार कर दिया था। यह घटना लखनऊ के मवैया मेट्रो स्टेशन की है।

ये महिलायें जब मवैया मेट्रो स्टेशन पर पहुंचीं तो इन महिलाओं को पहले बुर्का हटाने के लिए कहा गया। जिसपर उन्होंने इनकार कर दिया। जिसके बाद उन्हें मेट्रो में प्रवेश की इजाजत नहीं मिली।

इन मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि उन्हें इस बात से कोई ऐतराज नहीं था कि कोई महिला सुरक्षाकर्मी उनकी तलाशी ले। लेकिन, वहां महिलाओं की जांच के लिए कोई महिला सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं थी। महिला सुरक्षाकर्मी के ना होने से उनकी तलाशी नहीं ली गई और इसी कारण पुरुष सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें मेट्रो में प्रवेश करने से रोक दिया।

जब इन मुस्लिम महिलाओं को मेट्रो में नहीं जाने दिया गया तो परिवार ने किराया वापस मांग लिया और मेट्रो अधिकारी ने उन्हें किराया लौटा दिया। जिसके बाद उन्होंने मेट्रो से जाने की अपनी योजना को त्याग दिया।

परिवार के मुखिया माज अहमद ने इसकी शिकायत लखनऊ मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन से भी की है। एलएमआरसी की जन संपर्क अधिकारी पुष्पा बेलानी ने कहा कि शिकायत दर्ज की जा चुकी है और आरोपों की जांच की जाएगी।

इस मामले पर मीडिया की नज़र तब पड़ी जब इन महिलाओं ने इस घटना को फेसबुक पर पोस्ट किया। महिलाओं के हितों के लिए आवाज उठाने वाली कार्यकर्ता कविता कृष्णन ने इसपर कार्यवाई की मांग की है।