उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
काशी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 
काशी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी |Google
देश

महादेवमय हुए मोदी तो मोदीमय हुई काशी, जीत के बाद मोदी ने काशी की जनता को दिए 10 वचन

काशी पहुंचे मोदी तो क्या थे उनके पहले शब्द। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

2019 के लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत के साथ जीत कर एक बार फिर संसद पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय सीट वाराणसी के दौरे पर हैं। जहां पहुंच कर उन्होंने सबसे पहले काशी विश्वनाथ मंदिर में पुजा की और बाद में उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। अपने सम्बोधन में सबसे पहले प्रधानमंत्री ने हर-हर महादेव मंत्र का उच्चारण किया। जिसके बाद उन्होंने कारकर्ताओं से कहा कि मैं सिर्फ यहां नामांकन भरने आया था, लेकिन काशी की जनता ने खुद ही मेरा चुनाव लड़ा और इस चुनाव में काशी का हर व्यक्ति नरेंद्र मोदी बन गया।

काशी में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

  1. नरेंद्र मोदी ने पं. दीनदयाल हस्तकला संकुल में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि " एक महीने पहले जब मैं 25 तारीख को यहां आया था तब पूरी शान के साथ काशी ने एक भव्य रूप दिखाया था। काशी का वह भव्य रूप ना सिर्फ उत्तर प्रदेश को प्रभावित करने वाला था बल्कि उसने पूरे देश को प्रभावित कर दिया।
  2. प्रधानमंत्री ने कहा "सरकार और संगठन के बीच तालमेल बड़ी ताकत है। यह करिश्मा कार्य और कार्यकर्ता का है। सरकार ने काम किया, लेकिन कार्यकर्ताओं ने जनता के विश्वास को मजबूत किया। पारदर्शिता और परिश्रम से हर जीत मुमकिन है।"
  3. मोदी ने कहा, "हमें जब सत्ता मिलती है तो विपक्ष का अस्तित्व शुरू होता है। हमारे इरादे नेक हैं। त्रिपुरा में वामपंथी सरकार के समय विपक्ष का अस्तित्व खत्म कर दिया गया था। लेकिन हमारी सरकार के आने के बाद अब यह बदला है।"
  4. उन्होंने कहा, "देश में राजनीतिक छुआछूत बढ़ी है। हमारे सैकड़ों कार्यकर्ताओं की हत्याएं हुई हैं। पश्चिम बंगाल में हत्याओं का दौर अभी भी जारी है।"
  5. मोदी ने कहा, "उप्र ने स्वस्थ्य लोकतंत्र की नींव को मजबूत किया। इस चुनाव को काशी के हर गली का मोदी लड़ रहा था। चुनाव अभियान को कार्यकर्ताओं ने चलाया। काशी का कार्यकर्ता खुद नरेंद्र मोदी बन गया था।"
  6. उन्होंने कहा, "काशी की बेटियों ने स्कूटी यात्रा निकाली थी, जो पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना। इस जीत ने बता दिया है कि देश के विश्लेषकों को मानना होगा कि अर्थमेटिक के आगे भी केमेस्ट्री होती है।"
  7. प्रधानमंत्री ने कहा, "काशी के लोगों ने इस चुनाव को एक पर्व माना। काशी का हर कार्यकर्ता डिक्टिंशन मार्क के साथ इस परीक्षा में पास हुआ। कार्यकर्ताओं के आदेश का पालन करता हूं। कार्यकर्ताओं का संतोष यही हमारा जीवनमंत्र है।"
  8. मोदी ने आगे कहा, "हमारी सरकार ने वोटबैंक की राजनीति से ऊपर उठकर काम किया। यदि हम यह नहीं करते तो वहीं रह जाते। हमने सबको साथ में लेकर चलने का काम किया। सवर्णो के लिए आरक्षण का प्रावधान इसी कोशिश का नतीजा है।"
  9. उन्होंने कहा, "संसद का उपयोग चर्चा के लिए होना चाहिए। लेकिन जब विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं होता तो हंगामा करके वे संसद को रोकने की कोशिश करते हैं। विपक्ष के पास संख्या बल न होना उसकी जिम्मेदारी है।"
  10. मोदी ने कहा, "इस चुनाव में अलग-अलग दलों के साथी और निर्दलीय साथी जो मैदान में थे, उनका भी मैं आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने पूरी गरिमा के साथ काशी के चुनाव अभियान को आगे बढ़ाया। मैं सभी अन्य उम्मीदवारों का मन से अभिनंदन करता हूं।"