उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
आम आदमी पार्टी
आम आदमी पार्टी |Twitter
देश

बीजेपी 10 करोड़ में खरीद रही थी आम आदमी पार्टी के विधायक को, ट्विटर पर मिली 10 करोड़ी सलाह 

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायकों पर बीजेपी का दांव। 

Uday Bulletin

Uday Bulletin

आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी पर खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव से पहले हमारे कम से कम सात विधायकों को अपनी पार्टी में शामिल होने के लिए 10-10 करोड़ रुपये की पेशकश की।

आप नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मीडिया से कहा, "भाजपा ने कम से कम हमारे सात विधायकों से संपर्क किया और हर एक को लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी छोड़ने के लिए 10 करोड़ रुपये का ऑफर दिया। वे और विधायकों के संपर्क में हैं, लेकिन हमें उनमें से सात लोगों ने यह जानकारी दी।"

सिसोदिया के अनुसार, यदि भाजपा ऐसा कर रही है तो यह आप सरकार की जीत को दर्शाता है। उन्होंने कहा, "दिल्ली में एक ऐसी सरकार है, जो लोगों की परेशानियों को दूर कर रही है। भाजपा के पास अब चुनाव लड़ने के लिए कोई मुद्दा नहीं बचा है और उनके झूठे मुद्दों पर लोगों को यकीन नहीं है।"

आप के दिल्ली प्रमुख गोपाल राय ने कहा कि भाजपा निराश है, क्योंकि उनके सभी सातों सांसद लोकसभा चुनाव हार रहे हैं। दिल्ली में छठे चरण में 12 मई को मतदान होना है। राज्य में विधानसभा चुनाव इसी साल के अंत में होना है।

सिसोदिया ने कहा कि भाजपा को चुनाव खुद के दम पर और उसकी सरकार द्वारा किए गए कामों पर लड़ना चाहिए। "मैं भाजपा को कहना चाहता हूं, अमित शाह (भाजपा अध्यक्ष) और नरेंद्र मोदी जी (प्रधानमंत्री) अगर आप लोगों में साहस है तो मुद्दों के आधार पर चुनाव लड़ कर दिखाओ, लेकिन कृपया आप विधायकों को खरीदने की कोशिश न करें।"

उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि भाजपा के लिए उनके विधायकों को खरीदना आसान नहीं होगा, क्योंकि आप विधायक पहले ही पार्टी को इसकी जानकारी दे देते हैं। "एमसीडी चुनाव से पहले भी भाजपा बवाना से हमारे विधायक को खरीदने में कामयाब हो गई थी, लेकिन जनता ने उन्हें अच्छा सबक सिखाया। इसलिए मैं भाजपा से कहना चाहता हूं कि अगर उनका एजेंडा देश को बदलना है तो उन्हें उसी पर ध्यान देना चाहिए।"

पश्चिम बंगाल में 40 तृणमूल विधायकों के मोदी के साथ संपर्क वाले उनके ही बयान पर सिसोदिया ने कहा, "वह जो बंगाल के विधायकों के साथ कर रहे हैं, वहीं वह दिल्ली में आप विधायकों के साथ करना चाहते हैं। प्रधानमंत्री विपक्ष के विधायकों को खरीद कर लोकतंत्र को कमजोर करना चाहते हैं। क्या यह अच्छा लगता है? मैं मोदी जी से पूछना चाहता हूं। कुछ शर्म कीजिए और लोकतंत्र का सम्मान कीजिए।"

उन्होंने कहा, "भाजपा ने कई बार दिखाया है कि वह लोकतंत्र और संविधान पर भरोसा नहीं करती। मैं दिल्ली की जनता से उन्हें अच्छा सबक सिखाने की अपील करता हूं।"

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर बीजेपी को सलाह मिलने लगी। लोगों ने अपनी तरफ से बड़े ही मजेदार कमेंट्स किए। यहां देखिये कुछ मजेदार कमेंट्स -