उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
लखनऊ लोकसभा चुनाव 
लखनऊ लोकसभा चुनाव |Twitter
देश

लखनऊ में राजनाथ सिंह के खिलाफ, पूनम सिन्हा का प्रचार कर रहे बागी बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा

पूनम सिन्हा के प्रचार में आये यशवंत सिन्हा ने कहा, राजनाथ कमजोर नेता आतंकी और नक्सली हमको को रोकने में फेल रहे हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में हुए नक्सली हमले में 16 लोगों की जान चली गई, जिसके तुरंत बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से बात करते हुए राज्य को पूर्ण केंद्रीय सहायता देने का आश्वासन दिया है।

गृह मंत्रालय ने ट्वीट किया, "गढ़चिरौली में महाराष्ट्र पुलिस पर हमला एक हताशपूर्ण कायराना हरकत है। हमें अपने शहीद हुए जवानों पर गर्व है।" राजनाथ ने यह भी कहा कि देश सेवा में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों का 'सर्वोच्च बलिदान' व्यर्थ नहीं जाएगा।

इस हमले के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिंहा ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह पर निशाना साधा। उन्होंने राजनाथ को मजबूर नेता बताया। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि वह लखनऊ से जीत के काबिल हैं। दरअसल यशवंत सिन्हा गठबंधन प्रत्याशी पूनम सिन्हा के लिए प्रचार करने लखनऊ पहुंचे। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में वह लखनऊ से भाजपा प्रत्याशी राजनाथ सिंह पर जमकर बरसे।

उन्होंने कहा, "व्यक्तिगत तौर पर मेरा राजनाथ सिंह से मधुर संबंध है। वह दो बार अध्यक्ष भी रहे। उप्र के मुख्यमंत्री और केंद्र में अटल सरकार में भी मंत्री रहे। लेकिन आज गृहमंत्री होकर भी वह सरकार में मजबूर नेता हैं। मुझे नहीं लगता कि वे लखनऊ से जीत के काबिल हैं।"

उन्होंने कहा, "आज मोदी के अलावा भी कई मुद्दे हैं जिनका चुनावों में जिक्र नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि आज नोटबंदी का जिक्र नहीं हो रहा। तीन साल पहले की गई नोटबंदी देश का सबसे बड़ा घोटाला है। जीएसटी से अर्थव्यवस्था चौपट हो गई। आज रोजगार नहीं है। देश में आये दिन हमले हो रहे हैं और सरकार इन हमलों को रोकने में पूरी तरह विफल रही है। "

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि नोटबंदी के घोटाले में सरकार और पार्टी के लोग शामिल थे। अगर केंद्र में नई सरकार आती है तो उसे इस घोटाले की जांच करवानी चाहिए।

यशवंत सिन्हा ने यह भी आरोप लगाया कि सरकार गलत आंकड़े पेश कर रही है। कोई भी आंकड़ा सही नहीं है। नई सरकार आने पर इन सभी आंकड़ों को फिर से ठीक करना होगा।

सिन्हा ने कहा कि आज चीन का नाम कोई नहीं ले रहा है। आज कहा जा रहा है कि परमाणु बम दिवाली के लिए नहीं रखे हैं। हमारी तुलना पाकिस्तान से हो रही है। जबकि अटल सरकार में हमारी कोशिश थी कि हम चीन से मुकाबला करें। लेकिन इस सरकार में पाकिस्तान से मुकाबला हो रहा है। यशवंत सिन्हा ने चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा।

उन्होंने कहा, "चुनाव आयोग का मतलब इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया नहीं, इलेक्शन कमीशन ऑफ मोदी हो गया है। साध्वी प्रज्ञा पर उन्होंने कहा कि यह देश के लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है। भाजपा ने एक आतंक के आरोपी को टिकट देकर गलत नजीर पेश की है।"