उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
फिलिप मार क्राइसोस्टोम
फिलिप मार क्राइसोस्टोम |Google
देश

भारत के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति आज मना रहे हैं अपना 102वां जन्मदिन, इनपर बनी है 50 घंटे की फिल्म 

केरल के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति फिलिप मार क्राइसोस्टोम ने शनिवार को अपना 102वां जन्मदिन मनाया।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

केरल के थिरुवल्ला में स्थित मालाकारा मार थोमा सीरियन चर्च के सबसे वरिष्ठ व्यक्ति फिलिप मार क्राइसोस्टोम आज 102 साल के हो गए हैं। और आज वे अपना 102वां जन्मदिन मना रहे हैं। फिलिप ओमन का जन्म अदंगप्पुरथु कलामन्निल परिवार में हुआ था। इस परिवार ने केरल को कई पुजारी दिए हैं। फिलिप के पिता वाइस जनरल के.ई ओमन, कलामन्निल, अदंगापुरथु, कुंभनद थे।

शुरूआती जीवन के उत्तार चढ़ाव

फिलिप मार क्राइसोस्टोम का जन्म 1918 में हुआ था। उन्होंने मैरामन स्कूलों से अपनी शुरूआती शिक्षा ली। जिसके बाद उन्होंने केंद्रीय क्रिश्चियन कॉलेज, अलुवा से स्नातक की शिक्षा प्राप्त की।

उन्हें साल 1944 में चर्च के एक पादरी के रूप में नियुक्त किया गया। 1953 में वे बिशप बन गए और 1999 में उन्हें चर्च का प्रमुख बनाया गया। 2007 में वे अपनी इच्छा से चर्च के प्रमुख के पद से सेवानिवृत्त हो गए। पिछले साल ही बिशप को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। क्रिसोस्टॉम हालांकि अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं, लेकिन वह अब भी चर्च की सेवाओं में भाग लेते हैं और चर्च के आसपास व्हील चेयर पर घूमते हैं।

सबसे लंबी डॉक्यूमेंट्री का रिकॉर्ड

फिलिप मार क्राइसोस्टोम के नाम पर एक और बड़ी उपलब्धि शामिल हैं। भारतीय फिल्म निर्देशक ब्लेसी ने इनपर एक व्यापक बायोपिक फिल्म बनाई थी। जो लगभग 48 घंटे 10 मिनट लंबी थी। यह डॉक्यूमेंट्री अब तक की सबसे लंबी डॉक्यूमेंट्री हो सकती है।

मोदी सपोर्टर हैं फिलिपोज मार क्रिसॉस्टम

फिलिपोज मार क्रिसॉस्टम प्रधानमंत्री मोदी के समर्थक हैं। मोदी सरकार के दौरान ही साल 2018 में उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। केरल में हो रहे चुनाव पर उनकी नज़र भी है। वे कहते हैं - 'राज्य में बीजेपी अपना खाता खोलेगी और लोकसभा में पार्टी के एक या दो सांसद होंगे।' मार थॉमा वलिया मेट्रोपॉलिटन ने कहा कि उन्हें बीजेपी पसंद है, मैं ऐसा नहीं कहूंगा कि पार्टी सांप्रदायिक है। सभी राजनैतिक पार्टियों, व्यक्तियों और संस्थानों का अपना सांप्रदायिक अजेंडा होता है, हमें अकेले बीजेपी को ही क्यों दोष देना चाहिए?

उन्होंने आगे कहा, 'मोदी सरकार ने केंद्र में रहते हुए कई कल्याणकरी योजनाएं लागू की हैं और उनका असर केरल में भी दिखाई देगा, मुझे लगता है पार्टी से एक या दो सांसद तो जरूर निकलेंगे।' आपको बता दें केरल में कुल 20 लोकसभा सीट हैं। जिसमें बीजेपी फ़िलहाल एक पर भी काबिज नहीं है।

शनिवार को, उनके चर्च के कई बिशप और अन्य संप्रदायों के लोगों ने उनसे मुलाकात की और उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। इस खास मौके को यादगार बनाने के लिए क्रिसोस्टोम ने विशेष रूप से बना 'अप्पम' (चावल के आटे से बना पारंपरिक पैनकेक) काटा।