उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
polio drops 2019
polio drops 2019|Google
देश

उत्तर प्रदेश: पल्स पोलियो की दवा बनी नौ माह की बच्ची के मौत का कारण   

उत्तर प्रदेश में बांदा पल्स पोलियो की दवा पीने से नौ माह की बच्ची की मौत हो गई। 

Uday Bulletin

Uday Bulletin

बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा के शंभू नगर मोहल्ले में कथित रूप से पल्स पोलियो की दवा पीने के बाद नौ माह की बच्ची की मौत हो गई है। बच्ची का नाम इशिता है। आपको बता दें कि, बीते रविवार बच्ची ने पोलियों की दवा पी, जिसके बाद उसकी तबियत खराब हो गई। उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया लेकिन डॉक्टरों की टीम उस बच्ची को बचा नहीं सकी।

क्या कहा डॉक्टरों ने

इस मामले में मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) ने शुक्रवार को कहा कि तीन चिकित्सकों के पैनल द्वारा किए गए पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट में मौत कारण स्पष्ट नहीं हुआ है इसलिए जांच के लिए बच्ची का बिसरा हिमाचल की प्रयोगशाला भेजा गया है। सीएमओ डॉ. संतोष कुमार ने शुक्रवार को कहा, "बच्ची इशिता की मौत के मामले में बुधवार की रात किए गए पोस्टमॉर्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। बच्ची के होंठ, नाखून और जीभ पर नीलापन पाया गया है जो ऑक्सीजन की कमी से भी संभव है।"

उन्होंने बताया, "मौत का कारण स्पष्ट न होने पर जांच के लिए बच्ची का बिसरा हिमाचल की कसौली प्रयोगशाला भेजा गया है साथ ही पिलाई गई पोलियो दवा का नमूना भी इसी प्रयोगशाला भेजा है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का असली कारण पता चलेगा।"

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. कुमार ने बताया कि जिलाधिकारी के आदेशानुसार मामले की मजिस्ट्रेट जांच भी शुरू हो गई है।

बच्ची के परिजन ने क्या कहा

मृत बच्ची इशिता के दादा आनंद शुक्ला ने फिर कहा, "पोलियो दवा पीने से चंद मिनट पहले बच्ची हंस-खेल रही थी। दवा पिलाने आए स्वास्थ्य दल ने किट के बजाय खुले हाथ में लाई दवा पिला दी थी जिसके बाद बच्ची की हालत बिगड़ी और उसकी मौत हो गई।"

बच्ची इशिता के परिजनों के अनुसार पोलियों केंद्र में हुए लापरवाही के कारन बच्ची की मौत हुई है। उन्होंने गलत तरीके से बच्ची को दवा पिलाई जिससे उसकी मौत हुई।