उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
जमशेतजी नुसरवानजी टाटा की प्रतिमा
जमशेतजी नुसरवानजी टाटा की प्रतिमा |Divyanshu singh
देश

भारतीय औद्योगिक क्रांति के जनक का जन्मदिन मना रहा है जमशेदपुर...!

ये सर जमशेतजी नुसरवान जी टाटा की ही दूरदर्शिता थी आज के जमशेदपुर का स्वरुप 100 साल पहले ही तय कर लिया गया था |

Divyanshu Singh

Divyanshu Singh

जमशेदपुर | भारत त्योहारों का देश है! और ये बात हम सब जानते हैं | भारत में कुछ ऐसे त्यौहार भी होते हैं जो किसी व्यक्ति विशेष के लिए मनाया जाता है | उस दिन पुरे देश में सरकारी छुट्टी होती है , जैसे राष्ट्रपिता माहत्मा गाँधी जी जन्मदिन | ठीक इसी प्रकार 3 मार्च जमशेदपुर शहर के साथ साथ पुरे भारत के लिए भी एक महत्पूर्ण दिन होता है क्यूंकि इसी दिन भारतीय औद्योगिक क्रांति के जनक सर जमशेतजी नुसरवानजी टाटा का जन्मदिन है |

जमशेतजी नुसरवानजी टाटा ही वो पहले व्यक्ति थे , जिन्होंने अंग्रेजो के ज़माने में भारतीय औद्योगिक क्रांति का सपना देखा और उसे साकार करने के लिए टाटा समूह की स्थापना की | उनका मानना था की आज़ादी के लिए औद्योगिक क्रांति बेहद जरुरी है | उन्होंने उस ज़माने में बंद पड़ी कई मिलो को ख़रीदा और उन्हें फिर से चालु किया | 1868 टाटा स्टील लिमिटेड (तत्कालीन टिस्को ) की स्थापना हुई | शुरुवात में ये कंपनी ट्रेडिंग कंपनी थी बाद में इसे ग्रुप में बदला गया |

Also read: जैसे मायानगरी मुंबई कभी सोती नही है, वैसे ही टाटानगरी(जमशेदपुर) कभी रोती नही |

जमशेतजी नुसरवानजी टाटा , टाटा समूह के पहले चेयरमैन थे , और उन्होंने मुंबई और देश की शान ताज होटल की भी स्थापना की | ताज होटल से जुडी एक रोचक कहानी जो प्रचलित है कि श्वेतो के लिए बने वाटसन होटल में प्रवेश ना मिलने पर जमशेतजी टाटा ने भारत के पहले लक्जरी होटल की स्थापना 1903 में की जिसमे आम भारतीय भी जा सके | सन 1903 बना ताज होटल तब 25 लाख भारतीय रुपयों में बन कर तैयार हुआ था |

3 मार्च के दिन जमशेदपुर शहर एक दुल्हन की तरह कर सज रोशनी में नहा उठता है | इस दिन शहर की खूबसूरती देखते ही बनती है , हर जगह हर्शौल्लाश , चहल पहल , लोगों की भीड़ , देखते ही बनती है!और यह उत्सव 3 दिनों तक चलता ही रहता है | पूरा का पूरा शहर जमशेतजी के जन्मदिन पर कृतज्ञ होकर पुरे जोश-ओ-खरोश के साथ उन्हें और उनके योगदान को याद करता है

Jubilee park jamshedpur
Jubilee park jamshedpur
Divyanshu Singh

3 मार्च से 3 दिनों तक पूरे देश के साथ जमशेदपुर शहर सर जमशेतजी नुसरवानजी के 180 वी० जन्मदिन को पुरे हर्षौल्लास के साथ मना रहा है |

मेरे और पूरे उदय बुलेटिन परिवार की ओर से भारतीय औद्योगिक क्रांति के जनक सर जमशेतजी नुसरवानजी टाटा को उनके जन्मदिवस पर शत शत नमन |