उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री मोदी महाराष्ट्र दौरे पर 
प्रधानमंत्री मोदी महाराष्ट्र दौरे पर |Twitter-BJP
देश

Video: महाराष्ट्र में फिर बोले PM Modi, इन शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा, बदला लेंगे 

PM Modi द्वारा आज यवतमाल के विकास से जुड़ी सैकड़ों करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है। इनमें गरीबों से जुड़ी, सड़कों से जुड़ी, रेलवे से जुड़ी, रोजगार से जुड़ी अनेक परियोजनाएं हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

यवतमाल (महाराष्ट्र): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शनिवार को महाराष्ट्र के यवतमाल में कई महत्वपूर्ण विकास परियोजनाओं के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होने आये थे। जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने वहां जनसभा को संबोधित भी किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि सुरक्षा बलों को कोई भी कदम उठाने के लिए खुली छूट दे दी गई है इसलिए पुलवामा में आतंकवादी हमला करने वाले आतंकवादी संगठन छिप नहीं सकते और उन्हें सजा दी जाएगी। पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 49 जवान शहीद हो गए।

हमले में शहीद हुए महाराष्ट्र के दो जवानों और अन्य जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए मोदी ने कहा कि देश को अपने सैनिकों और सुरक्षा बलों पर विश्वास और गर्व है और उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

यहां एकत्रित हुए किसानों और महिलाओं के नारों के बीच मोदी ने कहा, "आतंकवादी संगठन और अपराधी कहीं भी छिप जाएं, हमारे सुरक्षा बल उन्हें ढूंढ निकालेंगे और उन्हें दंडित करेंगे।"

उन्होंने कहा कि ये कब और कैसे होगा, यह फैसला सुरक्षा बलों पर छोड़ दिया गया है। मोदी ने लेकिन साथ ही देश की जनता से धैर्य रखने और सुरक्षा बलों पर विश्वास कायम रखने की अपील की क्योंकि दोषियों को किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा देश के शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। सरकार उनकी सुरक्षा के लिए सदैव खड़ी हैं। जिसके बाद प्रधानमंत्री ने कहा आज यवतमाल के विकास से जुड़ी सैकड़ों करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है। इनमें गरीबों से जुड़ी, सड़कों से जुड़ी, रेलवे से जुड़ी, रोजगार से जुड़ी अनेक परियोजनाएं हैं। केंद्र सरकार ने 2022 तक हर बेघर को पक्का घर देने का लक्ष्य रखा है और हमारी सरकार तेजी से अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ रही है। जिन परिवारों को अभी तक घर नहीं मिला है, उन्हें मेरा वचन है कि 2022 तक हर परिवार का अपना घर होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा इस बजट में हमारी सरकार ने घुमंतू समुदाय के लिए बड़ा फैसला किया है। इतिहास में पहली बार इस समुदाय का ख्याल किसी सरकार ने किया है। इस समुदाय के लिए सरकार ने विकास कल्याण बोर्ड बनाने का फैसला किया है। समाजिक सुरक्षा के प्रतिबद्ध हमारी सरकार ने आदिवासी समाज के कल्याण के लिए इस बार के बजट में करीब 30 प्रतिशत की वृद्धि की है। यह फैसला आदिवासी समाज के लिए भाजपा सरकार की निष्ठा का सबूत है।

आपको बता दें कि, जम्मू एवं कश्मीर में 1989 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर हुए सबसे घातक आतंकवादी हमले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटकों से भरी अपनी एसयूवी को सीआरपीएफ की एक बस में टक्कर मार दी थी जिसमें अब तक 49 जवान शहीद हो चुके हैं और कई जवान घायल हो गए हैं।

--आईएएनएस