Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
बीजेपी नेता और केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल 
बीजेपी नेता और केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल |Google
देश

Railwaly Job: रेलमंत्री की सौगात, 4 लाख लोगों को नौकरी का अवसर देने जा रहा है रेलवे डिपार्टमेंट 

Railway Jobs: रेलमंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने बेरोजगारों के लिए बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि रेलवे में 2 लाख 32 हज़ार और वेकैंसी निकाली जाएगी। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: RRB Recruitment: लोकसभा चुनाव (Loksabha इलेक्शन 2019) बेहद करीब है। ऐसे में राजनीतिक पार्टियां फुंक-फूंक कर कदम रख रही है और दिल खोल कर घोषणाएं कर रही है। अब रेल मंत्रालय ने घोषणा की है कि रेलवे में 2 लाख 32 हज़ार और वेकैंसी निकाली जाएगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने देश में बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए ये बड़ा ऐलान किया है। पीयूष गोयल कहा कि पिछले वर्ष हमने डेढ लाख लोगों को नौकरी देने का अवसर प्रदान किया था, अगले दो वर्षों में सेवानिवृति से होने वाली वैकेंसी और अन्य स्थानों के लिये कुल मिलाकर 4 लाख लोगों को नौकरी का अवसर रेलवे देने जा रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे में 2 लाख 32 हज़ार और वेकैंसी निकाली जाएगी। हालांकि रेलवे में अभी 1 लाख 32 हज़ार अभी पद खाली है। दो साल में 1 लाख लोग और रिटायर होने वाले हैं। लिहाज़ा पुरानी ग्रुप सी और ग्रुप डी की वेकैंसी और इस बार जो वेकैंसी रेलवे निकालने वाला है उसको मिला दें तो रेलवे 2 साल में करीब लाख भर्तियां करेगा।

रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा कि नौजवान युवाओं का जोश भारतीय रेल की सेवा में आये, और भारतीय रेल भी उसी जोश के साथ और अधिक अच्छी बने, इसके लिये हम उनका स्वागत करते हैं। भर्तियों की घोषणा के अलावा उन्होंने पिछली सरकारों को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि यदि पिछ्ली सरकारों ने आज की तरह रेल में निवेश किया होता तो आज जो तकलीफ है वो नही हुई होती, पहले राजनैतिक कारणो से लाइनों को लगाना तय होता था, इस सरकार ने जहां आवश्यकता है, उस पर फोकस करते हुए योजना बद्ध तरह से काम किया।

रेल मंत्री ने कहा कि, नौकरी.कॉम ने अपने सर्वे में बताया है कि देश भर में 84% रिक्रूटर्स के अनुसार जनवरी से जून 2019 से भारी मात्रा में नौकरियों का सृजन होने वाला है। उन्होंने कहा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आरक्षण देने वाली रेलवे पहली संस्था होगी, 10% आरक्षण कमजोर वर्ग के लिये होंगी, शेष आरक्षण अन्य वर्ग के लिये बिना किसी छेड़छाड़ के बरकरार रखा जायेगा।

आपको बता दें कि साल 2018 में Railway Recruitment Board (RRB) ग्रुप सी एएलपी, टेक्नीशियन के 60 हजार से ज्यादा पदों पर वैकेंसी निकाली थी। इसके अलावा पिछले साल ही ग्रुप डी के 62 हजार 907 पदों पर भी वैकेंसी निकली थी। ग्रुप सी और ग्रुप डी दोनों ही भर्तियों की प्रक्रिया चल रही है। फिलहाल रेलवे में 1 लाख 32 हज़ार पद खाली हैं। करोड़ों युवा बेरोजगार हैं। प्रतिवर्ष 2 करोड़ नौकरी देने का वादा कर सत्ता में आई सरकार अपनी नकमियाबियों का ठीकरा दूसरों के सिर फोड़ती ही हैं।