उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Raghuram Rajan
Raghuram Rajan|GOOGLE
देश

लोकसभा चुनाव 2019: क्या रघुराम राजन होंगे अगले ‘ द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ ?

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन के गवर्नर पद से इस्तीफा देने के बाद राजनीत में कदम रखने की बात लंबे समय से सुर्खियों में बनी हुए है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) के गवर्नर पद से इस्तीफा देने के बाद राजनीत में कदम रखने की बात लंबे समय से सुर्खियों में बनी हुई है। वजह है रघुराम राजन (Raghuram Rajan), मोदी सरकार की नीतियों पर सदैव हमलावर रहे है। नोटबंदी हो या GST रघुराम राजन ने केंद्र सरकार की नीतियों का खुल कर विरोध किया है और इन फैसलों को भारत की अर्थव्यवस्था के लिए नुकसान देह ठहराया है। इससे यह अटकलें बढ़ती जा रही है कि वह राजनीती में कदम रख सकते हैं। अगर ऐसा होगा भी है तो यह पहली बार नहीं होगा। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) भी रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) के गवर्नर रह चुके हैं। इस लिहाजे अगर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) भारत के प्रधानमंत्री बनते हैं तो हो सकता है वे देश के दूसरे 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' हो।

हालांकि रघुराम राजन (Raghuram Rajan) ने इन सभी अफवाहों पर विराम लगा दिया है । वर्ल्ड इकनोमिक फोरम में भाग लेने दावोस गए रघुराम राजन (Raghuram Rajan) से जब मीडिया ने इस विषय में सवाल किया तो उन्होंने साफ़ मना कर दिया और कहा उनकी दिलचस्पी सिर्फ शिक्षा और तकनीकीतंत्र में हैं। उन्होंने कहा वह अपने विचारों के आदम प्रदान के लिए नेताओं से बातचीत करते रहते हैं। चंद्र बाबू नायडू, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हो या वित्त मंत्री अरुण जेटली वे सभी से बातचीत करते हैं।

दरअसल बीते कुछ समय से सियासी गलियारों में रघुराम राजन के नाम की काफी हलचल थी। ख़बरों की माने तो लोकसभा चुनाव (Loksabha Election 2019) के लिए रघुराम राजन कांग्रेस का घोषणा पत्र ड्राफ्ट कमिटी के सदस्य होंगे। कयास ये भी लगाए जा रहे थे कि बीजेपी के खिलाफ तैयार हुआ महागठबंधन उन्हें अपना प्रधानमंत्री चेहरा बना सकता है। हालांकि रघुराम राजन (Raghuram Rajan) ने इसे सिर्फ अफवाह बताया है। उन्होंने कहा कि देश को आगे बढ़ाने के लिए अपने विचारों को सिस्टम में कैसे इम्प्लीमेंट किया जाये हम इस कोशिश में है। हम ऐसी जगह पर खड़े हैं जहा वर्तमान में जो विकास की गति है वो देश को नै ऊर्जा नहीं दे सकती है। उन्होंने आगे कहा देश के विकास के लिए रिफार्म जरुरी है। हमें इसे गंभीरता से लेना चाहिए।

रघुराम राजन ने कहा मैंने कोई नेता नहीं हूं, मई राजनीति में शामिल नहीं हो रहा। ये मैं कई बार कह चूका हूं। आपके लिए यह जानना जरुरी है कि आपके पास क्या ताकत है। मैं टेक्नोक्रैट्स हूं, शिक्षक हूं , यही दो क्षेत्र हैं जिनकी मुझे जानकारी है। मेरा ध्यान रिफार्म पर है।