Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने EVM हैकिंग मामले में कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दिया
केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने EVM हैकिंग मामले में कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दिया|BJP-twitter
देश

EVM Hack Controversy: BJP का कांग्रेस पर वार, कहा- कांग्रेस पार्टी 2019 में होने वाली अपनी हार के बहाने अभी से ढूंढने लगी है

बीजेपी नेता और केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने EVM Hacking मामले को लेकर कांग्रेस पर पलटवार किया और पूछा कि कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल वहां क्या कर रहे थे। 

Uday Bulletin

Uday Bulletin

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने EVM हैकिंग मामले में कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दिया है। आज प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा कि 'ये सब कांग्रेस द्वारा प्रायोजित है।' रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कांग्रेस (Congress) पर हमला करते हुए कहा कि 'मैं कानून मंत्री हूं, देश-विदेश के लोगों से मिलता हुं, लेकिन मैंने कभी सैय्यद सुजा का नाम नहीं सुना है। लंदन में कार्यक्रम को लेकर कहा गया था कि वह लंदन में ईवीएम को हैक (EVM Hacking) करके दिखाएंगे। यह नाटक मुझे समझ नहीं आया है। रवि शंकर प्रसाद ने कांग्रेस (Congress) पर हमला करते हुए कहा कि, कांग्रेस विदेश की धरती से भारत के लोकतंत्र को बदनाम करने के लिए बकवास काम कर रही है।

रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा कि, भारत का चुनाव आयोग जिसकी चर्चा पूरे विश्व में होती है, आज कांग्रेस पार्टी उस संवैधानिक संस्था पर हमले करवा रही है। कांग्रेस पार्टी सुनियोजित तरीके से देश की संवैधानिक और वैधानिक संस्थाओं की अस्मिता को कमजोर करने का भरसक प्रयास कर रही है। कांग्रेस पर आरोप लगते हुए प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस अपनी लोकसभा चुनाव (Loksabha election 2019) में होने वाली हार के डर बौखला गई है। इसलिए कांग्रेस पार्टी (Congress) अपनी हार के बहाने अभी से ढूंढने लगी है।

बीजेपी नेता और केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) के बयाना का जवाब देते हुए सपा नेता अखिलेश यादव ने कहा कि, अगर किसी ने सवाल उठाया है तो यह जरूर सोचना चाहिए कि आखिर क्या वजह है कि जापान जैसा विकसित देश ईवीएम का इस्तेमाल नहीं कर रहा है। यह किसी राजनीतिक दल का सवाल नहीं है, यह लोकतंत्र में भरोसे का सवाल है। चुनाव आयोग और सरकार को निर्णय लेना चाहिए।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी EVM हैकिंग पर अपनी राय देते हुए कहा कि, लोकतंत्र के बड़े हित को ध्यान में रखते हुए, ईवीएम मामले पर गौर करना आवश्यक है ताकि यह जल्द ही हल हो जाए। मतपत्र को मान्य करना संभव है लेकिन ईवीएम के साथ ऐसा नहीं है। हम चुनाव आयोग से 2019 के आम चुनाव को बैलट पेपर के माध्यम से कराने की मांग करते हैं, इसे संज्ञान में लें।

आपको बता दें कि सोमवार को लंदन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट सैयद शुजा ने खुलासा किया कि 2014 में EVM में धांधली हुई थी। लेकिन चुनाव आयोग ने इसे ख़ारिज किया है। इसके अलावा हैकर ने ये भी दावा किया कि 2015 के दिल्ली चुनाव में उन्होंने AAP के लिए ईवीएम हैकिंग की थी। हैकर की माने तो मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ चुनाव में EVM हैकिंग नहीं किया गया था। रविशंकर प्रसाद ने इस कार्यक्रम को कांग्रेस द्वारा प्रायोजित बताया है।