Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
कन्हैया कुमार (kanhaiya kumar)  
कन्हैया कुमार (kanhaiya kumar)  |Google
देश

JNU Sedition Case: दिल्ली पुलिस को कोर्ट की फटकार, बिना सरकार की अनुमति के चार्जशीट कैसे दायर हुयी 

JNU Sedition Case: दिल्ली सरकार की मंजूरी के बिना चार्जशीट दायर करने पर दिल्ली पुलिस को दिल्ली कोर्ट ने फटकार लगाई है।  

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: JNU Sedition Case: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में देशविरोधी नारे लगाए जाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने बिना दिल्ली सरकार की मंजूरी लिए दिल्ली हाई कोर्ट में चार्जशीट दायर कि जिसके बाद कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को जम कर फटकार लगाई है। कोर्ट ने पुलिस को कहा कि जब तक दिल्ली सरकार की अनुमति नहीं होगी पुलिस चार्जशीट दायर नहीं कर सकती। कोर्ट इसकी मंजूरी नहीं दे सकती। हम सरकार की अनुमति के बिना इस पर संज्ञान नहीं लेंगे। कोर्ट ने कहा कि चार्जशीट पर पहले सरकार से अनुमति लेनी होगी और इसके लिए पुलिस को दस दिनों का समय दिया है।

दिल्ली कोर्ट ने कहा कि आपके पास लीगल डिपार्टमेंट की मंजूरी नहीं है, तो फिर बिना मंजूरी के आपने चार्जशीट फाइल क्यों की? इस पर दिल्ली पुलिस ने कहा कि हम दस दिनों के भीतर इसकी मंजूरी ले लेंगे। दरअसल देशद्रोह के मामले में CRPC के सेक्शन 196 के तहत जब तक सरकार मंजूरी नहीं दे देती, तब तक कोर्ट चार्जशीट पर संज्ञान नहीं ले सकता।

बता दें कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में 9 फरवरी 2016 में एक कार्यक्रम के दौरान कथित देशविरोधी नारे लगाए जाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है। दरअसल, जेएनयू मामले में कन्हैया कुमार व अन्य के खिलाफ दायर चार्जशीट के लिए दिल्ली सरकार ने अब तक दिल्ली पुलिस को अनुमति नहीं दी है। दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में आरोप लगाए थे कि JNU परिसर में 7 कश्मीरी छात्रों ने देश विरोधी नारे लगाए थे। इन पर IPC की धारा 124A 323, 465, 471,143, 149, 147, और 120B के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।