Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
अयोध्या में राम मंदिर पर आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी
अयोध्या में राम मंदिर पर आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी|Twitter
देश

मोदी सरकार दोबारा सत्ता में आ भी गई तो मंदिर निर्माण को लेकर कोई पहल नहीं करेगी- RSS महासचिव भैया जी जोशी

RSS ने अब केंद्र की मोदी सरकार पर सीधे तौर पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

उत्तर प्रदेश : प्रयागराज में कुंभ दौरे पर आये आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की पहल न करने से नाराज अब केंद्र की मोदी सरकार पर सीधे तौर पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। आरएसएस के महासचिव भैयाजी जोशी को ऐसा लगता है कि अगर मोदी सरकार दोबारा सत्ता में आ भी गई तो मंदिर निर्माण को लेकर कोई पहल नहीं करेगी। आरएसएस महासचिव ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुआ कहा कि राम मंदिर 2025 में बनेगा।

आरएसएस महसचिव ने कहा, हमारी मंदिर बनाने की इच्छा है। ये 2025 तक पूरी हो जानी चाहिए। ये हमारी इच्छा है। अब सरकार जल्दी तय करे कि मंदिर आज से बनना शुरू हो या पांच साल बाद। लेकिन 2025 तक मंदिर बनना चाहिए।

आरएसएस महासचिव भैया जी जोशी ने कहा कि जब राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा तो देश में विकास की गति भी तेजी से बढ़ने लगेगी। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर अब भी बहुत सी चुनौतियां हैं, जिनसे निपटने की जरूरत है। उनके मुताबिक अयोध्या में राम मंदिर सिर्फ एक मंदिर का निर्माण नहीं है, बल्कि यह करोड़ों हिन्दुओं की आस्था और सम्मान से भी जुड़ा हुआ है। कुंभ मेले में हरिद्वार की संस्था दिव्य प्रेम सेवा मिशन द्वारा आयोजित सेमिनार में संघ के सर कार्यवाह भैया जी जोशी ने सिर्फ मंदिर ही नहीं बल्कि विकास के मुद्दे पर भी मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला।

भैया जी जोशी ने कहा कि आज से करीब 60 साल पहले 1952 में सोमनाथ मंदिर के निर्माण के बाद देश तेजी से आगे बढ़ा था। जवाहर लाल नेहरू उस समय प्रधानमंत्री थे। मोदी राज में भारत के फिर से विश्वगुरु बनने की राह पर चलने के दावों को भी नजरअंदाज किया और व्यंग्य करते हुए कहा कि भारत तकरीबन 150 साल बाद विश्वगुरु बन जाएगा।