उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला
कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला|Google
देश

चार सालों में पहली बार पीएम मोदी के समर्थन में आई कांग्रेस, कहा पीएम का मजाक उड़ाना बंद करें अमेरिका 

कांग्रेस पार्टी ने कहा कि ट्रंप (Donald Trump) की भारत के पीएम मोदी (PM Modi) को लेकर की गई टिप्पणी अस्वीकार्य है और उम्मीद है कि भारत सरकार इसका सख्ती से जवाब देगी। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी के प्रधान मंत्री बनने के बाद ऐसा पहली बार देखने को मिला है कि कांग्रेस पार्टी किसी बात में प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) का समर्थन कर रही है या फिर उनके पक्ष में खड़ी होकर प्रधान मंत्री के विरोधियों को मुंहतोड़ जवाब दें रही है। लेकिन ऐसा हे कुछ नजारा हमें कल देखने को मिला जब कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत के प्रधान मंत्री मोदी (PM Modi) को विकास कार्यों के संदर्भ में अमेरिका (America) के उपदेश की जरूरत नहीं है। कांग्रेस (Congress) पार्टी के प्रवक्ता ने यह भी कहा कि ट्रंप (Donald Trump) की पीएम मोदी (PM Modi) को लेकर की गई टिप्पणी अस्वीकार्य है और उम्मीद है कि भारत सरकार इसका सख्ती से जवाब देगी।

कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि प्रिय ट्रंप, भारत के प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) का मजाक उड़ाना बंद करिए। अफगानिस्तान (Afghanistan) पर भारत को अमेरिका (America) के उपदेश की जरूरत नहीं है। कांग्रेस प्रवक्ता के कहा डॉ मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) के कार्यकाल के तहत, भारत ने अफगान के नेशनल असेंबली बनाने में मदद की थी। उन्होंने कहा मानवतावादी को रणनीतिक आर्थिक भागीदारी की आवश्यकता है, हम अपने अफगानी भाइयों और बहनों के साथ हैं। हालांकि सूत्रों के अनुसार भारत सरकार ने डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पीएम मोदी पर तंज कसने को खारिज कर दिया है।

दरअसल बीते दिन अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने प्रधान मंत्री मोदी (PM Modi) का मजाक उड़ाया था और कहा था कि 'भारत के प्रधान मंत्री अपने कामों का बखान करते हैं, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि विश्व के नेता अपने योगदान का बखान कर रहे हैं जबकि उनका योगदान अमेरिका (America) की ओर से खर्च किए गए ‘‘अरबों डॉलर’’ के मुकाबले कहीं नहीं ठहरता। साथ ही ट्रंप (Donald Trump) ने देश की सुरक्षा के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाने को लेकर भारत और अन्य देशों की आलोचना भी की थी।