उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’  ट्रेलर रिलीज़ (The Accidental Prime Minister)
‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ ट्रेलर रिलीज़ (The Accidental Prime Minister)|Twitter
देश

लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस के खिलाफ ‘The Accidental Prime Minister’ BJP का सियासी हथियार 

फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के ट्रेलर रिलीज़ होते हे फिल्म विवादों में आ गई। बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल से फिल्म का ट्रेलर ट्वीट किया। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: देश के पूर्व प्रधानमंत्री और अर्थशास्त्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के राजनीतीक सफर पर आधारित फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' (The Accidental Prime Minister) का ट्रेलर बीते गुरुवार रिलीज़ किया गया। ट्रेलर के रिलीज़ होते ही यह फिल्म विवादों में आ गई है।

महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस ने ‘The Accidental Prime Minister’ के निर्माताओं को लिखा कि 'फिल्म रिलीज़ होने से पहले उन्हें फिल्म दिखाना है और यदि कुछ दृश्यों को प्रतिकूल पाया जाता है, तो उन्हें फिल्म से हटा दिया जाना चाहिए, नहीं तो युवा कांग्रेस फिल्म को देश में कहीं भी प्रदर्शित नहीं होने देगी।

महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस
महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस
twitter

वहीं दूसरी और बीजेपी ने इस फिल्म के ट्रेलर अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करते हुए कांग्रेस पर हमला बोला है। बीजेपी ने कांग्रेस पर राजनीतिक हमला करते हुए लिखा कि 'The Accidental Prime Minister की ट्रेलर की कहानी बताती है कि कैसे एक परिवार ने दस सालों तक देश को बंधक बनाकर रखा। क्या डॉ मनमोहन सिंह सिर्फ इसलिए तब तक पीएम की कुर्सी पर बैठे थे, जब तक उनका राजनीतिक उतराधिकारी (राहुल गांधी) तैयार न हो जाए? देखें इनसाइडर्स अकाउंट पर आधारित द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर का ट्रेलर, जो 11 जनवरी को रिलीज हो रही है।' बीजेपी ने फिल्म का प्रमोशन भी किया और कांग्रेस पर हमला भी।

अनुपम खेर की राजनीतिक दिलचस्पी से हम सभी वाकिफ है। वह प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसक हैं। उनकी फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम म‍निस्टर' 11 जनवरी को रिलीज हो रही है। 6 जनवरी से प्रधानमंत्री मोदी लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार में जुड़ने वाले है। इस फिल्म के ट्रेलर को जिस तरह से बीजेपी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर जगह दी है, उससे यह लगने लगा है कि लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान ये फिल्म चर्चा में रहेगी और इसी के बहाने बीजेपी कांग्रेस पर हमला करेगी। इस फिल्म में मनमोहन सिंह के 10 साल के बतौर प्रधानमंत्री कार्यकाल को दिखाया गया है।

सुचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने द आसिडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर अपनी प्रतिकिर्या देते हुए कहा कि आखिर कांग्रेस किस प्रकार फिल्म की आजादी पर सवाल उठा सकती है। हालांकि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस फिल्म पर कोई प्रतिकिर्या नहीं दी है। प्रत्रकारों के सवाल पर वो आगे बढ़ गए।