उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
भाजपा  प्रवक्ता चंद्रमोहन
भाजपा प्रवक्ता चंद्रमोहन|Google
देश

नोएडा पुलिस के बचाव में उतरे योगी के मंत्री कहा, ओवैसी मानसिक दिवालियेपन का शिकार

BJp प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार सभी धर्मों में मनाए जाने वाले पर्वों का ध्यान रखती है ।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में नोएडा पुलिस ने एक फरमान जारी किया है जिसमें साफ तौर पर लिखा गया है कि "सेक्टर-58 स्थित अथॉरिटी के पार्क में पुलिस प्रशासन की ओर से किसी भी प्रकार की धार्मिक गतिविधि की अनुमति नहीं है। इसमें उदाहरण देकर कहा गया है कि मुस्लिम कर्मचारियों को पार्क में इकट्ठे होकर नमाज पढ़ने की मनाही है।" जिसे लेकर नेताओं के बीच बयानबाजी जारी है।

पार्क में नमाज पढ़ने की मनाही को लेकर एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की टिप्पणी पर भाजपा ने बुधवार को कहा कि ओवैसी (Asaduddin Owaisi) मानसिक दिवालियेपन के शिकार हो गये हैं ।

दरअसल ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्विटर पर लिखा था, 'उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की पुलिस ने कांवड़ियों के लिए फूल बरसाए थे, लेकिन हफ्ते में एक बार पढ़ी जाने वाली नमाज़ से शांति और सद्भाव बिगड़ सकता है। ये बिल्कुल वैसा हुआ कि आप मुसलमानों से कह रहे हों कि आप कुछ भी कर लो, लेकिन गलती तो आपकी ही होगी ।'

ओवैसी के इस बयान के बाद बीजेपी (BJP) नेताओं ने ओवैसी को पागल तक बोल दिया। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा, 'ओवैसी मानसिक दिवालियेपन का शिकार हैं । उन्हें तथ्यों की जानकारी नहीं है । प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार कानून व्यवस्था को सर्वोपरि मानती है और नोएडा पुलिस ने जो कुछ भी किया, ठीक किया ।'

चंद्रमोहन ने कहा कि सार्वजनिक पार्क में इस तरह के :नमाज: आयोजन, जिस पर लोग आपत्ति कर रहे हों, उसे प्रतिबंधित करने और शांति व्यवस्था को लेकर उठाया कदम सराहनीय है । उन्होंने कहा कि ओवैसी को पता ही नहीं है कि कांवड़ यात्रा क्या है ? कांवड़ यात्रा की पुष्प वर्षा क्या है ? प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार सभी धर्मों में मनाए जाने वाले पर्वों का ध्यान रखती है ।

आपको बता दें कि, हिंदूवादी संगठन कई बार मुसलमानों के खुले में नमाज पढ़ने का विरोध कर चूका है। यह पहली बार नहीं जब अल्पसंख्यकों को इस तरह शांति के नाम पर धमकाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) हिंदुत्व की पहचान माने जाते है। उनके राज्य में इस तरह का फरमान आश्चर्य का विषय नहीं है।