उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
राष्ट्रपति
राष्ट्रपति|image Source - Samachar
देश

विज्ञान की तरह हिन्दी को भी अपनी पहुंच खुद बढ़ानी होगी-राष्ट्रपति कोविंद

हमारा समाज ताकतवर होगा तो भाषा भी समृद्ध होगी और भाषा की समृद्धि से ही समाज आर्थिक सामर्थ्य प्राप्त कर सकता है...

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: मॉरीशस में आयोजित 11वें विश्व हिन्दी सम्मेलन के दौरान सम्मानित किये गए भारतीय साहित्यकारों के स्वागत समारोह में राष्ट्रपति कोविंद ने कहा "अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए हिन्दी को अपनी सामग्री और प्रसार दोनों ही दृष्टि से विज्ञान व प्रौद्योगिकी के अनुसार खुद को बदलना होगा, तब ही हिन्दी का विकास संभव है।"

साथ ही राष्ट्रपति कोविंद ने ये भी कहा कि हर भाषा की शक्ति उसके बोलने वाले पर निर्भर करती हैं, व्यक्ति की समृद्ध सोच और गतिविधि उस भाषा को महान बनाती है। हमारा समाज ताकतवर होगा तो भाषा भी समृद्ध होगी और भाषा की समृद्धि से ही समाज आर्थिक सामर्थ्य प्राप्त कर सकता है।

हम विज्ञान और प्रौद्योगिकी के जमाने में रहते हैं, लोग स्मार्ट फोन से जुड़े हैं और देश-विदेश में फोन के जरिये बातें होती हैं, भाषा अब असीमित हो गई है, फोन दूरियों को खत्म कर चुका है, विज्ञान व प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल भाषा के विस्तार के लिए किया जा सकता है। ये साधन दूरियाँ घटाने का काम करती हैं।

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा लोक-कला व लोक-भाषा हमारे आचरण से जीवित रह सकती हैं, किसी देश की आत्मा वहाँ की भाषा है, जो समाज को आईना दिखाती है।अपनी हिन्दी भाषा के कारण ही मॉरीशस में ये आयोजन हो सका और इससे ना सिर्फ़ भाषा बल्कि संस्कृति के संरक्षण का कार्य भी सम्भव है।

राष्ट्रपति ने कहा “भारत ने हिन्दी भाषा को जीवित रखने में सशक्त भूमिका निभाई है, आज हमारे देश में 42 करोड़ से अधिक लोग हिन्दी बोलते हैं, देश की सभी विश्वविद्यालयों में हिन्दी भाषा पढ़ाई जा रही हैं । 45 देशों में से 2000 प्रतिनिधियों का हिन्दी भाषा सम्मेलन में भाग लेना अपने आप में एक सम्मान का विषय है। पूरे विश्व में आज 370 करोड़ लोग हिन्दी बोलते हैं।”

भाषा के विस्तार में हमारी हिन्दी फ़िल्मों का भी खासा योगदान रहा है, भारतीय फ़िल्मों का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन बेहद खास रहा है। हमारे कलाकार देश- विदेश में प्रसिद्धि पा रहे हैं। राष्ट्रपति कोविंद ने 11वें विश्व हिन्दी समारोह में शामिल सभी लोगों को बधाई दी.