मध्य प्रदेश में बंदिश की आहट, कोरोना के चलते गृहमंत्री ने दिए बड़े संकेत

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलो को मद्देनज़र रखते हुए शिवराज सरकार ने मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया है।
मध्य प्रदेश में बंदिश की आहट, कोरोना के चलते गृहमंत्री ने दिए बड़े संकेत
Night Curfew in Madhya Pradesh Google Image

बीते दिनों में देश भर के प्रमुख इलाको में कोरोना के मामलों की संख्या में इजाफा हुआ है। इसका असर मध्यप्रदेश में भी नजर आया है जिस वजह से मध्यप्रदेश में सरकार द्वारा सकारात्मक कदम उठाने की बात कही जा रही है। प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस मामले में मीडिया को जानकारी दी। प्रदेश सरकार द्वारा मध्यप्रदेश में लॉकडाउन तो नहीं लगाया गया लेकिन कुछ शहरों में रात्रि कर्फ्यू को लगाया गया है।

कोरोना के मद्देनजर लिए गए कड़े निर्णय:

मध्य प्रदेश में बीते कुछ समय से कोरोना के नए मरीजो की संख्या लगातार बढ़ रही है। जिसको लेकर मध्य प्रदेश सरकार लगातार चिंतित नजर आ रही है। इस मामले पर प्रदेश के मुख्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि सरकार लोगों के स्वास्थ को लेकर बेहद चिंतित है और सरकार द्वारा हर संभव तरीके से लोगों को इस महामारी से बचाने के प्रयास किया जा रहा है। ग्रह मंत्री ने ट्वीट करके बताया कि इस बारे में सरकार जिम्मेदार लोगों के साथ समस्या कि समीक्षा की जाएगी।

कोरोना के मद्देनजर प्रदेश में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। ग्रह मंत्री ने जानकारी दी कि प्रदेश के मुख्यमंत्री इस मीटिंग की अध्यक्षता कर रहे है साथ ही इस महामारी के प्रकोप इत्यादि के आकड़ो का तकनीकी विश्लेषण प्राप्त कर रहे है ताकि इस समस्या से लड़ने में सही मार्ग मिल सके।

मुख्यमंत्री ने मीटिंग में लिए निर्णय:

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश के ताजा हालातो पर नजर डाली साथ ही प्रदेश की जनता को चेताते हुए बताया कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है बल्कि बदलते मौसम में यह और भी विकट स्थिति ला सकता है। प्रदेश के ला एंड ऑर्डर एजेंसियों को अधिकार देते हुए मुख्यमंत्री ने जानकारी दी कि अगर कोई व्यक्ति सरकार द्वारा कोरोना के खिलाफ निर्धारित किये गए निर्देशों का पालन नहीं करता तो उनसे जुर्माना वसूला जाए।

मुख्यमंत्री ने वैवाहिक सीजन के मद्देनजर लोगों से अपील करते हुए कहा कि लोग विवाहों में लोगों के जमाव को कम करते हुए कम लोगों को शामिल करके वैवाहिक कार्यक्रम करें। मुख्यमंत्री ने लॉक डाउन पर सस्पेंस खत्म करते हुए कहा कि हमारी सरकार वर्तमान समय मे प्रदेश में लॉक डाउन नहीं लगाने जा रही लेकिन स्कूल और कॉलेज अग्रिम आदेश तक बंद रखे जाएंगे। सिनेमाघरों में भी 50 फीसदी दर्शकों के साथ पूर्ववत चालू रखे जाएंगे। औद्योगिक संगठनों में कोई रोकटोक नहीं रहेगी। आवागमन पर भी बंदिश नहीं रहेगी हालांकि मध्यप्रदेश के कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में रात्रि कर्फ्यू को निर्धारित किया गया है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com