Rally in Support of CAA in Rajgarh MP
Rally in Support of CAA in Rajgarh MP|Twitter
म.प्र. बुलेटिन

राजगढ़ की घटना लोकतंत्र का उपहास है : शिवराज सिंह

शिवराज ने कमलनाथ से पूंछा, कानून के समर्थन में रैली करना क्या अपराध है क्या?

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

मामला कुलमिलाकर सीएए और एनआरसी के पक्ष और विपक्ष का है जहाँ एक ओर दिल्ली और लखनऊ में हुए विरोध प्रदर्शन को लोगों द्वारा समर्थन दिया जा रहा था वहीँ मध्यप्रदेश के राजगढ़ में इसके समर्थन में एक रैली निकाली गई, लेकिन स्थानीय प्रशासन ने भारी बल प्रयोग करके शांतिपूर्ण प्रदर्शन को तितर-बितर कर दिया, प्राप्त रिपोर्ट्स में लोगो को ज्यादा चोटे आयी है।

शिवराज सिंह ने कहा चाटुकार अधिकारी नशे में अपनी हदे लांघ रहे है :

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मीडिया को बताया कि कुछ चाटुकार अधिकारी कुर्सी और पावर के नशे में मदमस्त होकर निर्दोष नागरिकों को उनके संवैधानिक अधिकार को नष्ट कर उनपर लाठियां बरसा रहे है, शिवराज सिंह ने आगे कहा कि कांग्रेस की मानसिकता से प्रेरित होकर शासन प्रशासन की मानसिकता भी पूरी तरह से हिंसक हो गयी है, अब इस सरकार को उखाड़कर फेंकने का वक्त आ चुका है जिससे इन मंदबुद्धि अधिकारियों को सबक सिखाया जा सके।

शिवराज ने अधिकारियों को आइना दिखाने की भी कोशिस की है।

कलेक्टर पर लगाए गंभीर आरोप :

इस हिंसा मामले को लेकर शिवराज सिंह ने स्थानीय कलेक्टर द्वारा लोगों पर लाठी चार्ज करने को लेकर सवाल उठाए है, शिवराज सिंह ने बताया कि सरकार की मंशा किसी भी प्रकार से आंदोलन को समाप्त करने की है इस लिए जिलाधिकारी( कलेक्टर) की मदद से सरकार ने अपना मंसूबा दिखा दिया है, शिवराज सिंह ने इस प्रदर्शन को और आगे तक ले जाने की बात की है उन्होंने आगे बताया कि सरकार के हिँसक हमले का जवाब अहिंसात्मक तरीके से दिया जाएगा।

पत्रकारिता क्या सिर्फ एक हिस्से को कवर कर रही है ?

पुलिस द्वारा लाठी चार्ज में घायल लोगों ने पत्रकारिता पर तमाम सवाल उठाए है, लोगों के अनुसार दिल्ली के जामिया और लखनऊ की घटना में स्थानीय पुलिस द्वारा किये गए निरोधक बल के कारनामे पर बहुत हाय दैय्या मचाया गया था, लेकिन राजगढ़ की घटना को हल्का मामला दिखा कर सरकार का पक्ष रखा जा रहा है, इससे मीडिया की मानसिकता साफ नजर आ रही है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com