Congress MLA Reached Bhopal
Congress MLA Reached Bhopal|Google
म.प्र. बुलेटिन

भोपाल पहुंचे कांग्रेस के बागी विधायक।

कांग्रेस विधायकों को भोपाल के होटल मेरियट में ठहराया गया।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायकों को विशेष विमान से रविवार को जयपुर से भोपाल पहुंचने के बाद होटल मेरियट ले जाया गया है। ये विधायक विजय का निशान दिखाते नजर आए। वहीं, शाम को विधायक दल की बैठक होगी, जिसमें ये विधायक हिस्सा लेंगे। कांग्रेस के जयपुर गए विधायकों को रविवार को भोपाल लाया गया है। विधायकों के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत और कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सुधांशु त्रिपाठी भी हैं। विधायकों को बसों से राजधानी के एमपी नगर में स्थित होटल मेरियट में लाया गया है। होटल में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

विधायकों की अगवानी के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हवाईअड्डे पहुंचे थे। वहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने उनकी अगवानी की। उसके बाद विधायकों को तीन बसों से होटल 'कोर्टियाड मेरियट' लाया गया। ये विधायक अपने घरों को नही जा पाए और उन्हें हवाईअड्डे से सीधे होटल लाया गया है।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि 'रविवार की शाम को विधायक दल की बैठक प्रस्तावित है, इस बैठक में जयपुर से आए सभी विधायक हिस्सा लेंगे।'

होटल पहुंचे विधायकों में से पूर्व मंत्री कांतिलाल भूरिया का कहना है कि कमलनाथ सरकार को कोई खतरा नहीं है, भाजपा की कोशिश मुंगेरी लाल के हसीन सपने साबित होगी।

विधायक प्रद्युम्न सिंह का कहना है, "हम जीतेंगे,आल इज वैल। अन्य विधायकों ने भी दावा किया कि, कमल नाथ सरकार बहुमत साबित करेगी।"

विधायकों के जयपुर से भोपाल आने को लेकर राजा भोज विमान तल पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे, भारी संख्या में सुरक्षा जवानों को तैनात किया गया था। हवाईअड्डे पर भीड़ जमा न हो इसके भी प्रयास किए गए थे।

भोपाल आने से पहले बागी विधायकों ने केंद्रीय बलों की सुरक्षा मांगी:

मध्य प्रदेश कांग्रेस के बागी विधायकों ने वीडियो जारी कर अपनी सुरक्षा में केंद्रीय सुरक्षा बलों को तैनात करने की मांग की थी । बेंगलुरू से बागी विधायकों ने वीडियो संदेश जारी कर विधानसभा अध्यक्ष से यह अनुरोध किया था। कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए इसे दबाव में जारी किए जाने की बात कही है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक कांग्रेस के बागी 22 विधायकों ने अपनी सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। इनमें से छह विधायकों का इस्तीफा विधानसभाध्यक्ष एन.पी. प्रजापति ने मंजूर कर लिया है। बेंगलुरू में मौजूद विधायकों ने रविवार को वीडियो संदेश जारी कर सुरक्षा की मांग की है।

वीडियो संदेश में विधायकों ने कहा है, “विधानसभा अध्यक्ष ने हमें उपस्थित होने का नोटिस दिया है। हमें जानकारी मिली है, लेकिन हम अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। भोपाल आने पर सुरक्षा को लेकर संशय है। इसलिए जरूरी है कि हमारी सुरक्षा के लिए केंद्रीय सुरक्षा बलों की मदद ली जाए।”

कांग्रेस प्रवक्ता और मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष सैयद जाफर ने कहा, “विधायकों से यह वीडियो दबाव में बनवाए गए हैं। जो वीडियो सामने आए हैं, उनमें विधायक के साथ दूसरे व्यक्ति की फुसफुसाती आवाज बताती है कि ये वीडिया सिखा-पढ़ाकर बनाए गए हैं।”

गौरतलब है कि गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, तुलसी सिलावट, प्रभुराम चौधरी, महेंद्र सिंह सिसोदिया के अलावा विधायक हरदीप सिंह डंग, जसपाल सिंह जज्जी, राजवर्धन सिंह, ओपीएस भदौरिया, मुन्ना लाल गोयल, रघुराज सिंह कंसाना, कमलेश जाटव, बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश धाकड़, गिरराज दंडौतिया, रक्षा संतराम सिरौनिया, रणवीर जाटव, जसवंत जाटव ने इस्तीफे दे दिए हैं। विधानसभा अध्यक्ष एन.पी. प्रजापित ने इनमें से छह विधायकों के इस्तीफे मंजूर कर लिए हैं।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com