भोपाल आदिवासी आश्रम शाला में बच्चे की हत्या
भोपाल आदिवासी आश्रम शाला में बच्चे की हत्या|Google
म.प्र. बुलेटिन

भोपाल आदिवासी आश्रम शाला में बच्चे की हत्या मामले में 2 निलंबित 

पहली कक्षा में पढ़ने वाले 7 वर्षीय छात्र सूरज की लाश आश्रम के बाथरूम में मिली थी।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के शासकीय अनुसूचित जाति-जनजाति बालक छात्रावास में सात साल के मासूम की गला घोंटकर हत्या किए जाने के मामले में दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। सूत्रों के अनुसार, पिपलानी थाना क्षेत्र में स्थित शासकीय अनुसूचित जाति-जनजाति बालक माध्यमिक आश्रम शाला के बाथरूम में बुधवार रात सात वर्षीय सूरज बेसुध हालत में मिला था। उसे अचेत अवस्था में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम में खुलासा हुआ है कि बच्चे की गला घोंटकर हत्या की गई है।

इस मामले को जिलाधिकारी तरुण पिथोड़े ने गंभीरता से लेते हुए आश्रम अधीक्षक रेचलराम और, पर्यवेक्षक अधिकारी शकील कुरैशी को निलंबित कर दिया है।

बताया गया है कि सीहोर जिले के बोरपानी गांव में रहने वाले राजेश खरते के दो बच्चे इस आश्रम में रहकर पढ़ाई करते हैं। राजेश मजदूरी करता है।

पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि सूरज का गला किसने और क्यों घोटा है। आश्रम के अन्य छात्रों से पूछताछ की जा रही है।

आश्रम में पायी गयीं बड़ी अनिमियतताएं, पुलिस कर रही जाँच:

आश्रम में बड़ी गंभीर सामने आयी हैं जिनकी जाँच की रही है, शासन ने मृतक छात्र के पिता को आदिम जाती कल्याण विभाग की ओर से 10 हज़ार रुपए की आर्थिक मदद और विद्यार्थी कल्याण योजना के तहत 25 हज़ार रुपए की मदद उपलब्ध कराई गयी है। इसके अलावा भोपाल कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने हॉस्टल की अधीक्षिका रेचलराम और पर्यवेक्षक अधिकारी शकील कुरैशी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com