उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
jyotiraditya scindia 
jyotiraditya scindia |IANS
म.प्र. बुलेटिन

मप्र की कमलनाथ सरकार खतरे में, अगर ऐसा नहीं हुआ तो ज्योतिरादित्य सिंधिया भी छोड़ सकते हैं कांग्रेस पार्टी?

सिंधिया समर्थकों की इस्तीफे की धमकी

Abhishek

Abhishek

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के नए अध्यक्ष के ऐलान से पहले ही तकरार बढ़ गई है। एक तरफ बैठकों का दौर जारी है, तो दूसरी ओर पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक उन्हें प्रदेशाध्यक्ष न बनाए जाने पर पार्टी छोड़ने तक की धमकी दे रहे हैं।

राज्य के वर्तमान अध्यक्ष और मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर नए अध्यक्ष के लिए अपनी राय जाहिर कर दी है। वहीं सिंधिया समर्थक खुलकर ज्योतिरादित्य सिंधिया को प्रदेशाध्यक्ष बनाए जाने की मांग कर रहे हैं।

सिंधिया समर्थकों ने यहां शुक्रवार को कांग्रेस कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर अपने नेता को प्रदेशाध्यक्ष बनाए जाने की मांग की। युवा नेता कृष्णा घाटगे के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सिंधिया को प्रदेशाध्यक्ष न बनाए जाने पर पार्टी को खमियाजा भुगतने के लिए तैयार रहने की बात कही। साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि अगर सिंधिया को प्रदेशाध्यक्ष नहीं बनाया जाता है तो बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पार्टी से इस्तीफा दे सकते हैं।

राज्य के नए अध्यक्ष को लेकर कांग्रेस में कवायद का दौर जारी है। अलग-अलग गुटों का नेतृत्व करने वाले तमाम बड़े नेता एक-दूसरे का रास्ता रोकने के लिए जी-जान से लग गए हैं। यही कारण है कि 10 से ज्यादा नेताओं के नाम पार्टी अध्यक्ष की दौड़ में हैं। इनमें प्रमुख रूप से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, पूर्व मंत्री मुकेश नायक, वर्तमान मंत्री उमंग सिंगार, ओमकार सिंह मरकाम, कमलेश्वर पटेल, सज्जन वर्मा, बाला बच्चन के अलावा पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन और शोभा ओझा के नाम चर्चा में हैं।

इससे पहले दतिया जिले के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक दांगी, सििंधया को अध्यक्ष न बनाए जाने पर 500 लोगों के साथ पार्टी छोड़ने की चेतावनी दे चुके हैं।