उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Victim Bharat Lal
Victim Bharat Lal |Social Media
म.प्र. बुलेटिन

गाय को पत्थर मारा तो पंचायत ने निकाला फरमान, गंगा में डुबकी लगाओ नहीं तो गांव से बाहर जाओ 

मध्य प्रदेश का एक गांव जहां गाय को पत्थर मारने पर मिलती है अजीबो गरीब सजा। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में मामोनी कलां गांव के ग्राम पंचायत ने एक तुगलकी फरमाना सुनाया है, जिसे सुनकर ना सिर्फ पीड़ित परिवार भौचक्का खा गया है बल्कि इस घटना के बारे में जिसने भी सुना उसके ही होश उड़ गए। दरअसल मामोनी कलां गांव के निवासी भारत लाल का गांव वाले बहिष्कार करना चाहते हैं क्योंकि भारत लाल ने एक गाय को पत्थर मार दिया है। इस घटना के बाद ग्राम पंचायत के सदस्यों ने एक बैठक की और कहा कि अपराधी भरत लाल पहले गंगा में डुबकी लगाकर आये उसके बाद हम उसे सजा देंगे।

ग्राम पंचायत ने अपने आदेश में यह भी कहा कि गंगा में डुबकी लगाने के बाद अपराधी भारत लाल को एक विशेष प्रार्थना पूजा करने होगी। जिसके बाद ही भरत लाल गांव में दाखिल हो सकता है।

क्या है मामला ?

पीड़ित भरत लाल ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि...

बीते दिन मेरे खेत में एक गाय घुस आई थी, मैंने उसे अपनी खेत से भागने की खूब कोशिश की फिर मैंने एक पत्थर उठाया और गाय को फेंक कर मार दिया। जिसके बाद गाय तेजी से भागने लगी और नदी में गिर गई और वहीं उसकी मौत हो गई।

इसपर पंचायत ने मुझे गंगा में डुबकी लगाने का फरमान सुना दिया और कहा कि पहले डुबकी लगाओ और विशेष पूजा करो उसके बाद हम तुम्हें सजा देंगे।

जब मैंने पंचायत के इस आदेश को नहीं माना तो गांव वालों ने मेरा बहिष्कार कर दिया। हमारे परिवार का हुक्का-पानी बंद हो चुका है। पंचायत का कहना है कि प्रयागराज में डुबकी लगाने से मेरा पाप धूल जाएगा।

क्या कहना है पंचायत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का

इस घटना के बारे में जब शिवपुरी जिला पंचायत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, "मुझे इस घटना की कोई जानकारी नहीं है। पहले हम जानकारी एकत्र करेंगे और सभी तथ्यों का पता लगाएंगे। फिर अपराधी को सजा दी जाएगी। इस तरह का व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।"