उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Niyaz Khan
Niyaz Khan|Social Media
म.प्र. बुलेटिन

मध्य प्रदेश के इस मुस्लिम पुलिस वाले की कहानी आपके दिल को छू लेगी 

नियाज़ खान मध्य प्रदेश परिवहन विभाग में कार्यरत हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

महीने भर पहले अपने सीनियर अधिकारी से बदतमीजी कर चर्चा में आये मध्य प्रदेश के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी नियाज़ खान इन दिनों फिर चर्चा में हैं। और इस बार उन्होंने कुछ ऐसा कह दिया है जिसे सुनकर आप भी दुखी हो जाएंगे। दरअसल नियाज़ खान इस बार एक ऐसा नाम खोज रहे हैं, जिससे पह अपनी पहचान छुपा सके। इसके लिए उन्होंने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए।

नियाज़ खान फ़िलहाल मध्य प्रदेश यातयात पुलिस विभाग में कार्यरत है। उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा कि वह अपने नए किताब और अपने लिए एक नया नाम ढूंढ रहे हैं। जिससे वो अपने मुस्लिम होने का पहचान छुपा सके और इस नफरत भरे समाज के बीच अपनी किताब बेंच सके। उन्होंने इसके बार और भी 3 ट्वीट किये।

नाम बदलना जरुरी

नियाज़ खान अपने दूसरे ट्वीट में लिखते हैं कि "मेरा नया नाम मुझे हिंसक भीड़ से बचाएगा। अगर मेरे पास कोई टोपी, कोई कुर्ता और कोई दाढ़ी नहीं है तो मैं भीड़ को अपना नकली नाम बताकर आसानी से निकल सकता हूं। हालांकि, अगर मेरा भाई पारंपरिक कपड़े पहन रहा है और दाढ़ी रखता है तो वह सबसे खतरनाक स्थिति में है। ऐसी स्थिति में कोई भी संस्थान हमें बचाने में सक्षम नहीं हो सकती है, इसलिए नाम को स्विच करना बेहतर है।"

बॉलीवुड अभिनेताओं को दी सलाह

नियाज़ खान अपने तीसरे ट्वीट में लिखते हैं कि "मेरे समुदाय के बॉलीवुड अभिनेताओं को भी अपनी फिल्मों की सुरक्षा के लिए एक नया नाम ढूंढना शुरू करना चाहिए। अब तो टॉप स्टार्स की फिल्में भी फ्लॉप होने लगी हैं। उन्हें इसका अर्थ समझना चाहिए।”

नियाज़ खान ने यह ट्वीट बीते रनिवार को किया था। जो अब सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। लोग इस ट्वीट पर मिली जुली प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कुछ लोगों ने नियाज़ खान को कायर बताया है तो कुछ लोगों ने उन्हें नाम ना बदलने की सलाह दी है। नियाज़ खान के अनुसार उनका सरनेम भूत की तरह उनके पीछे पड़ा है। मुस्लिम होने की वजह से उन्हें कई बार प्रताड़ित किया गया है। दरअसल अपने ट्वीट के जरिये नियाज़ खान ने अपने सीनियर अधिकारीयों द्वारा की गई प्रताड़ना का दर्द सबके सामने रखा है।