उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Jeff Bezos 
Jeff Bezos |Social Media
लाइफस्टाइल

अमेजन के जंगल में लगी आग, लोग मदद मांगने अमेजन कंपनी के मालिक Jeff Bezos के पास पहुंच गए

अमेज़न के जंगल में आखिर क्यों लगी आग ?

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

दुनिया के सबसे बड़े रेन फारेस्ट और दक्षिणी अमेरिकी देश ब्राज़ील के सबसे बड़े जंगल अमेज़न में भीषण आग लग चुकी है, यह आग पिछले 16 दिनों से लगी हुई है, जिसके कारण ब्राज़ील के कई इलाके अंधेरे में डूब गए हैं खास कर ब्राज़ील का साओ पाउलो इलाका धुंए में डूबा हुआ है। हालांकि अमेज़न के जंगलों से इससे पहले भी कई बार आग लगने की खबर आई थी लेकिन इस बार मामला थोड़ा बड़ा हो गया।

अमेज़न के जंगलों में आग लगने के बाद ब्राज़ील में कई जगहों पर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है, जिसपर ब्राज़ील के राष्ट्रपति जेर बालसोनारो ने कहा कि ये हमारी सरकार को बदनाम करने की कोशिश है, हमारी पार्टी के विरोधी नेताओं ने साजिश कर यह आग लगाई है।

इस जंगल में आग लगना पर्यावरण के लिए बेहद खतरनाक है, जानकारों का कहना है कि अमेज़न का यह जंगल दुनिया को 20 फीसदी ऑक्सीजन देता है। इस जंगल की सबसे खास बात है कि दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेज़न.कॉम ने अपनी कंपनी का नाम इससे ही प्रेरित होकर रखा है।

इस गंभीर घटना के बाद कई लोगों ने अमेज़न के लिए मदद की गुहार लगाई है, जिसमें हमारे बॉलीवुड के सितारे, विश्व प्रसिद्ध खिलाड़ी सहित कई लोग शामिल हैं। लोगों ने तो गूगल और ईकॉमर्स कंपनी अमेज़न.कॉम के मालिक Jeff Bezos से भी लोग ट्विटर पर मदद मांगी है।

एक ट्विटर यूजर ने अमेज़न.कॉम के मालिक Jeff Bezos को ट्वीट करते हुए लिखा कि "यह समय अमेज़न के लिए कुछ करने का है। कृपया आप आगे आये और लोगों की मदद करें, अगर मैं Jeff Bezos होता तो लाखों लोगों की मदद करता।”

लोगों ने गूगल और एलेक्सा को ट्वीट करते हुए लिखा कि 'एलेक्सा और गूगल को इस बारे में कुछ करना चाहिए।'

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने इस मामले में ट्वीट करते हुए लिखा कि 'अमेज़न रेन फारेस्ट से बीते दो सप्ताह आग लगने की भयावह और दर्दनाक तस्वीर आ रही है। यह दुनिया को 20 फीसदी ऑक्सीजन देता है। इस घटना से हम सभी प्रभावित होंगे , पृथ्वी जलवायु परिवर्तन से बच सकती है लेकिन हम ऐसा नहीं होने देते।'

क्यों लगी आग

जानकारों का कहना है कि साल 2017 के बाद से अमेज़न के जंगलों में आग लगने की घटना बढ़ गई है और इसका कारण प्रदुषण और तेजी से होती जंगलों की कटाई है। अगर समय रहते वनों की कटाई पर रोक नहीं लगाया गया तो आने वाले समय में यह समस्या बढ़ती ही जाएगी और इस आग से सबसे ज्यादा दिक्कत जंगल में रहने वाले जानवरों को होगी।