उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Byju’s CEO Raveendran
Byju’s CEO Raveendran|Social Media
लाइफस्टाइल

आठ साल पहले शुरू किया था स्टार्टअप अब बने अरबपति

भारत को एक नया अरबपति मिल गया 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

एप्प की दुनिया में अब तक आपने पेटीएम, व्हाट्सअप, फेसबुक और इंस्टाग्राम को तहलका मचाते हुए देखा होगा लेकिन बीते कुछ समय से एक और एप्प है जो धमाका मचा रहा है उसका नाम है 'बायजू'। 'बायजू' एक एजुकेशन लर्निंग एप्प है और इस एप्प के फाउंडर-सीईओ बायजू रविंद्रन अब भारत के नए अरबपतियों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। बायजू रविंद्रन एक शिक्षक हैं और उन्होंने 8 साल पहले इस एप्प को लांच किया था। पिछले 8 सालों में उनकी संपत्ति 6 अरब डॉलर तक पहुंच चुकी है।

Byju’s CEO Raveendran
Byju’s CEO Raveendran
Social Media

बायजू रवींद्रन अरबपतियों के इस खास क्लब में तब शामिल हुए जब उनकी कंपनी थिंक एंड टर्न लिमिटेड ने इस महीने रिकॉर्ड तोड़ कमाई करते हुए 150 मिलियन डॉलर का आकड़ा छू लिया। कंपनी ने अपने व्यापार का दायरा बढ़ाते हुए अमेरिका से लेन-देन की घोषणा की है और वाल्ट डिज्नी के साथ साल 2020 तक के लिए डील फाइनल कर लिया है।

बच्चों के लिए करना चाहते हैं काम

डिज्नी से करार के बाद एप्प को अपग्रेड किया जाएगा और 'द लायन किंग' के 'सिम्बा' से लेकर 'ब्यूटी एंड द बीस्ट' के 'बेले' बच्चों को मैथ्स और अंग्रेजी सिखाएंगे। बच्चों को सीखने के लिए यह तरीका वास्तव में एक मजेदार तरीका है।

बायजू रवींद्रन कहते हैं कि अब हर बच्चा खुद को डिज्नी के कार्टून से जोड़कर देख सकता है। ‘सिम्बा’ से लेकर ‘मोना’ तक डिज्नी के कार्टून बच्चों को पढाई के लिए आकर्षित करेंगे। एप्प के माध्यम से बच्चे काफी कुछ सीख सकते हैं।

टूशन पढ़ाते हुए आया यह आईडिया

बायजू रवींद्रन कहते हैं टीचिंग लाइन में आने का आईडिया उनका नहीं था। अपने दोस्तों की सलाह पर उन्होंने यह रास्ता चुना। शुरुआती दौर में उन्होंने 8 स्टूडेंट्स को लेकर कोचिंग स्टार्ट की और आज उनके पास अरबों की दौलत है।

बायजू एक इंजीनियर हैं इसलिए उन्हें गणित में ज्यादा दलचस्पी थी। वो इस विषय को बड़े आसान तरीके से पढ़ाते हैं और उनकी इस तकनीक ने गणित को लोकप्रिय बना दिया। यही कारण है कि आज कई छात्र उनकी कंपनी में आईआईएम की पढाई छोड़ कर ज्वाइन कर रहे हैं। उनकी पत्नी और कंपनी की डायरेक्‍टर दिव्‍या गोकुलनाथ भी बायोलॉजी की टीचर हैं दोनों की मुलाकात टीचिंग के दौरान ही हुई थी।

कहा जा रहा है कि आने वाले वर्षों में बायजू और तरक्की करेगा। क्योंकि आज के समय में लोग ऑनलाइन शिक्षा के प्रति ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं, हर किसी के पास स्मार्टफोन और डेटा पैक है और आज हर माँ-बाप अपने बच्चों को कम उम्र से ही पढ़ाना शुरू कर देते हैं।