उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
स्मार्टफोन का प्रभाव 
स्मार्टफोन का प्रभाव |google
लाइफस्टाइल

स्मार्टफोन के प्रयोग से लोगों के शरीर पर पड़ रहे हैं ऐसे प्रभाव, सामने आई चौंका देने वाली तस्वीर 

इस आधुनिकता के जमाने में अपने काम को आसान करने के लिए लोग अपनी दिनचर्या में अधिकतर गैजेट्स का प्रयोग करते हैं लेकिन उन्हे शायद ये नहीं पता होता है कि इसके जितने लाभ है उतने ही नुकसान भी हैं।

Puja Kumari

Puja Kumari

आज मोबाईल हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुका है, यह धीरे-धीरे हमारे दिनचर्या में कुछ ऐसे शामिल हुआ जैसे मानो भोजन व जल के बिना कुछ देर व्यक्ति रह भी ले पर बात करें स्मार्टफोन की तो इसके बगैर एक पल भी जीना मुश्किल सा लगता है। यह तो आपने भी कई बार महसूस किया होगा, खासकर ये उदाहरण आपको युवा वर्ग में देखने को ज्यादातर मिल जाएगा। आज हम आपको स्मार्टफोन (Smartphone) से जुड़े एक गंभीर विषय के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे जानना हर किसी के लिए बेहद जरूरी है।

स्मार्टफोन को लेकर हाल ही में जो रिसर्च सामने आया है उसने हर किसी की नींद ही उड़ा दी है। हालांकि ये बात भी सच है कि आज की भागदौड़ भरी लाइफ में स्मार्टफोन (Smartphone) ने हमारे जीने के तरीके से लेकर कई सारे काम को आसान भी कर दिया है। पर अगर एक पल के लिए आप इन चीजों को किनारे कर जरा सोचिए कि इन सब से कीमती आपका स्वास्थ है और अगर स्मार्टफोन आपके स्वास्थ में खलल डाल रहा है तो ऐसी आदत से आज ही तौबा कर लेना चाहिए।

मोबाइल के प्रयोग से सिर पर निकल रहे हैं 'सींग'

स्मार्टफोन का प्रभाव 
स्मार्टफोन का प्रभाव 
google

यह बात हम यूं ही नहीं कह रहे हैं बल्कि हाल ही में हुए आस्ट्रेलिया के क्वींस लैंड स्थित सन साइन कोस्ट यूनिवर्सिटी ( University of the Sunshine Coast in Queensland) में किए गए एक शोध में पता चला है कि स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल करने से व्यक्ति के सिर पर ‘सींग’ निकल रहे हैं। दरअसल शोध में मिले परिणाम से वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि स्मार्टफोन के अधिकर प्रयोग करने से इंसान के शरीर की हड्डियों में काफी बदलाव देखने को मिल रहे हैं। बताया गया है कि काफी समय तक सिर को झुकाकर रखने की वजह से युवाओं के सिर के ठीक बगल (skeleton) से एक नुकीला हड्डी (External occipital protuberance) निकल रहा है।

ये खासकर 18 से 30 वर्ष के उन लोगों में देखने को मिल रहा है ये उन लोगों के लिए खतरा बन सकता है जो अपना ज्यादा वक्त मोबाइल में बिताते हैं। वैज्ञानिको का कहना है कि व्यक्ति अक्सर स्मार्टफोन के प्रयोग के समय अपने सिर को आगे पीछे झुकाता है जिसकी वजह से गर्दन के नीचले हिस्से में खींचाव सा उत्पन्न होता है और हड्डियां बाहर की तरफ निकल जाती हैं जो बिल्कुल सींग जैसी ही नजर आती है।

मेडिकल भाषा में समझें तो सिर पर ज्यादा दबाव पड़ने से रीड़ की हड्डी के कनेक्टिंग टेंडन और लिगामेंट्स में हड्डी का विकास होता है जो हुक या सींग जैसी हड्डी बढ़ जाती है, ये बिल्कुल गर्दन के ठीक ऊपर और सिर के थोड़ा नीचे हुक की तरह निकली होती है।

आधुनिकता के साथ कमजोर बनाता जा रहा है स्मार्टफोन

स्मार्टफोन का प्रभाव 
स्मार्टफोन का प्रभाव 
google

बीते दशक और आज के इस मॉडर्न युग में जी रहे इंसानों की अगर तुलना की जाए तो भले ही हम आधुनिकता की ओर तेजी से आगे बढ़ रहे हैं लेकिन इसके साथ ही साथ इंसान के शरीर की हड्डियां पहले की अपेक्षा और ज्यादा कमजोर होती जा रही हैं। शोध में यह भी बात सामने आई है कि आए दिन लैपटॉप, कंप्यूटर, आदि के प्रयोग से व्यक्ति की कुहनियां कमजोर होती जा रही हैं क्योंकि वो ज्यादा समय तक मुड़ी रहती हैं। ये तमाम तरह के गैजेट्स हमें और हमारे बच्चों को शारीरिक रूप से कमजोर बनाते जा रहे हैं।

वो कहावत तो आपने जरूर सुनी होगी कि हर सिक्के के दो पहलू होते हैं एक अच्छा तो दूसरा बुरा। कुछ ऐसा ही इन गैजेट्स के साथ भी है इसलिए किसी भी चीज का इस्तेमाल एक तय सीमा भर ही करना चाहिए वरना वो आपको कब खत्म कर देगा इस बात का अंदाजा भी आपको नहीं लग पायेगा।