उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Indonesia after earthquake
Indonesia after earthquake|Image Source: Evening Standard 
विदेश

सूनामी और भूकंप ने मिलकर मचाई इंडोनेशिया में तबाही  

इंडोनेशिया के सुलवेसी द्वीप में भूकंप के बाद आई सूनामी

Sneha Sinha

Sneha Sinha

जकार्ता, 29 सितंबर: आईएएनएस के हवाले से पता चला है की, इंडोनेशिया के सुलवेसी द्वीप में रिक्टर पैमाने पर 7.5 तीव्रता का भूकंप दर्ज आया और उसके बाद आई सुनामी के कारण हुए हादसों में शनिवार को 380 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। बचाव कर्मियों को कुछ निश्चित प्रभावित इलाकों में पहुंचने में दिक्कत हो रही है और मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है।

इंडोनेशिया के पालू शहर में 384 लोग मारे गए, शुक्रवार को जब वहां त्यौहार की तयारियाँ चल रही थी तभी आये भूकंप और सुनामी ने वहाँ कहर बरपाया। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी (बीएनपीबी) के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने कहा है कि घायल लोगों कि संख्या 540 हैं और 29 लोग अभी भी लापता हैं और वहाँ शनिवार को भी भूकंप के जबरदस्त झटके महसूस किये गए है

सुतोपो का कहना है कि सारे मकान नष्ट हो गए और कई परिवारों के लापता होने की खबर है। उन्होंने कहा, "हमने भूकंप के कारण हुए हादसों में मारे गए लोगों और सुनामी आने के कारण तेज लहरों में बहे लोगों के शव बरामद किए गए हैं और सरकार इसे आपात स्थिति घोषित करने के लिए तैयार है और क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण काम बिजली और संचार सेवा को बहाल करना है।"

बीबीसी के सूत्रों से पता चला है कि पालू में कुछ ऐसे प्रभावित तटीय इलाके हैं, जहां संचार सेवाओं पर असर पड़ा है और इस कारण पालू में अधिकारी डोंगगाला समुदाय (मछुआरों का एक समुदाय) से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं।

बीएनबीपी के प्रवक्ता ने कहा कि पालू के हवाईअड्डे पर दूरसंचार है और हवाई परिवहन के अधिकारी वहाँ पहुंचकर खराब हुए बिजली के उपकरणों की मरम्मत करने का काम किया।भूकंप और सुनामी के बाद पोसो, टोलिटोली, लुवुक और मामूजू हवाईअड्डे अभी खुले हुए हैं।

अधिकारियों ने सुनामी की लहरें करीब 10 फुट ऊंची होने का अनुमान लगाया, लेकिन पालू में लिए गए एक वीडियो में ये लहरें एक मंजिला इमारत की छत से भी ऊंची नजर आ रही हैं।पालू और डोंगगाला में 600,000 से ज्यादा लोग रहते हैं।