Coronavirus in Pakistan
Coronavirus in Pakistan|Uday Bulletin
विदेश

कोरोना इफेक्ट : पाकिस्तान में हालात बद से बदतर हैं। 

जो पाकिस्तान चीन के कर्जे के भरोसे भारत को हमेशा जंग के अंजाम भुगतने की धमकियाँ देता रहता है, आज उसी पाकिस्तान के द्वारा अपने बाशिंदों को इलाज देना मुश्किल हो रहा है लोग तंबुओं में रखे जा रहे है 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

पाकिस्तान और कोरोना, कोढ़ में खाज की स्थिति :

चीन, इटली और अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश जहाँ कोरोना की मार से घुटनों पर आ चुके है वहीँ पाकिस्तान के खस्ता हाल पर कोरोना का कहर कोढ़ में खाज जैसी स्थिति बना रहा है। जहाँ एक ओर पाकिस्तान तमाम बुनियादी सुविधाओं के लिए दुनिया का मुँह ताक रहा है वहीँ पर पाकिस्तान इस मौके पर भी कश्मीर का राग अलाप रहा है। जहाँ वह अपने देश के कोरोना पीड़ितों के लिए मास्क और हैंड सेनेटाइजर मुहैया नहीं करा पा रहा लेकिन वह कश्मीर के लोगों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रहा है। प्राप्त सूचना के अनुसार पाकिस्तान में हालत इस कदर खराब है। चीन से आने वाले चीनी लोगों और अन्य आवाजाही की वजह से पाक में कोरोना ने अपनी पकड़ मजबूत कर ली है वहीँ पाकिस्तान की हालत ऐसी नहीं है कि वह कोरोना से लड़ सके।

तंबू में रखे संदिग्ध कोरोना संक्रमित :

हालात यह है कि कोरोना प्रभावित देशों से आने वाले लोगों को आइसोलेशन में रखने के लिए पाकिस्तान ने बेहद अजीबोगरीब इंतजाम किए है। वायरल वीडियो में पाकिस्तान के लोगों को खुली जगह पर बने हुए तंबुओं में रखा जा रहा है। जहां पर लोगों को बुनियादी सुविधाओं से वंचित रखा जा रहा है, वहीँ इसकी तुलना में भारत मे इसके उलट हालात है, दरअसल भारत ने कोरोना की आहट के बाद से ही अपनी तैयारियां कर रखी थी जिसकी वजह से भारत ने विश्वस्तर की सुविधाओं की कतार लगा रखी है।

कोरोना के आगे पाकिस्तान ने टेके घुटने :

दरअसल देश के मुखिया को कभी भी किसी आपदा के सामने घुटने नहीं टेकने चाहिए लेकिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री द्वारा ऐसे बयान दिए जा रहे है जिसकी वजह से देश मे ख़ौफ़ का माहौल बनता जा रहा है। दरअसल पाकिस्तानी पीएम ने अपने बयान में साफ शब्दों में कहा है कि कोई गवर्मेंट कभी कोरोना से नहीं लड़ सकती। यह सच भी है कि बिना आमजन के ये संभव ही नहीं है लेकिन ऐसे बयानों से जनता में पैनिक की स्थिति बन सकती है जिसके अंजाम भयानक होंगे।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com