उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
इमरान खान के लिए नोबल शांति पुरस्कार की मांग 
इमरान खान के लिए नोबल शांति पुरस्कार की मांग |IANS
विदेश

Noble Prize for Imran Khan: आतंकियों का मददगार अब चाहता है शांति पुरस्कार

पाकिस्तान नेशनल असेंबली में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को शांति का नोबल पुरस्कार देने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया। साथ ही ऑनलाइन याचिका भी दायर की गई। 

Uday Bulletin

Uday Bulletin

सोशल मीडिया में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistani PM Imran Khan) ट्रेंड कर रहे हैं। इमरान खान को शांति के लिए नोबल प्राइज (Noble prize for Imran Khan) देने की मांग उठ रही है और भारत सहित पाकिस्तान में #Noble Prize for Imran Khan की बातें हो रही है। दरअसल भारतीय वायु सेना के पायलट विंग कमांडर अभिनन्दन (Wing Commander Abhinanadan) की रिहाई का फैसला लेकर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री वाह वाही बटोर रहे हैं। बीते दिन पाकिस्तानी संसद में एक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिसमें भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने में अहम भूमिका निभाने का श्रेय भी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान Pakistani PM Imran Khan) को दिया गया और यहीं से उन्हें नोबल शांति पुरस्कार (Noble prize for Imran Khan) देने की मांग उठी है।

ट्विटर पर सबसे ज्यादा ट्रेंड कर रहा है हैशटैग नोबलपीसप्राइज फॉर इमरान खान

पाकिस्तानी मीडिया जियो न्यूज के मुताबिक, सूचना मंत्री फवाद चौधरी के द्वारा पेश किए गए इस प्रस्ताव में कहा गया है कि भारतीय नेतृत्व के युद्ध उन्माद और आक्रामकता के कारण दो परमाणु संपन्न देशों के बीच तनाव पैदा हुआ और दोनों देशों को युद्ध के कगार पर ले आया। प्रस्ताव में ये भी कहा गया है कि इमरान खान समझदारी के साथ हालात को शांति की ओर ले गए और इसलिए उन्हें नोबल शांति पुरस्कार मिलना चाहिए। शुक्रवार को ट्विटर पर हैशटैग नोबलपीसप्राइज फॉर इमरान खान (Noble prize for Imran Khan) सबसे ज्यादा ट्रेंड कर रहा था।

नोबल प्राइज के लिए ऑनलाइन याचिका दायर

पाकिस्तानी सूचना मंत्री फवाद चौधरी यही नहीं रुके उन्होंने विभिन्न संघर्षो पर एशिया क्षेत्र (पाकिस्तान-भारत, अफगानिस्तान-अमेरिका, मध्य पूर्व) में संवादों और उनके शांति प्रयासों के लिए इमरान खान को 2020 का नोबल शांति पुरस्कार देने हेतु नॉर्वे की नोबल समिति को एक ऑनलाइन याचिका भी भेज दी है। चेंज डॉट ओआरजी वेबसाइट पर ऑनलाइन याचिका में कहा गया है, "उनका (इमरान खान) योगदान नोबल के साथ अंतर्राष्ट्रीय मान्यता का हकदार है। क्षेत्र में शांति बहाली और सैनिक शासन के पुनरुत्थान को हतोत्साहित करने के उनके मकसद को मान्यता और उसकी सराहना की जानी चाहिए।"