Pak PM Tweet in hindi Expressed concern for india
Pak PM Tweet in hindi Expressed concern for india|Google
विदेश

इमरान खान का झलका हिंदी प्रेम, भारत के आंतरिक मामले पर जताई चिंता। 

पाकिस्तानी पीएम को भारत की चिंता सता रही।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

हिंदी फिल्म का महशूर डायलाग है “जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं फेंकते” ये डायलाग मानो पाकिस्तान के ऊपर ही लिखा गया था। दिल्ली और कश्मीर के ताजा मामलों पर पाकिस्तानी पीएम का दर्द इस कदर छलका है कि उन्हें अपनी भाषा उर्दू और अंग्रेजी को छोड़कर हिंदी में लिखना पड़ रहा है। अब वो बात अलग है कि इसमे तमाम गलतियां है।

दिल्ली और कश्मीर का रोना रोया :

पाकिस्तान वह देश है कि जिसमें उतने प्रांत और शहर नहीं जितनी हजार उसकी समस्याएं है लेकिन मजाल क्या की अपनी समस्याओं और कारस्तानियों को जनता के सामने रखें बल्कि अपनी दुश्वारियों को छिपाकर पाकिस्तान को हिंदुस्तान का दर्द बहुत भारी लग रहा है। वैसे भी भारत मे खुद की तकलीफ दिखाने वाले नेता कम थे कि पाकिस्तान ने धार्मिक विक्टिम कार्ड खेल डाला।

इमरान खान ने अपने प्राइम मिनिस्टर वाले हैंडल से एक ट्वीट किया है जिसमें इमरान ने कश्मीर और दिल्ली में हुई हिंसा को पुलिस और आरएसएस समर्थित बताकर भारत पर आरोप मढ़ा है।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री एक ट्वीट भर से संतुष्ट नहीं हुए बल्कि इसी चक्कर मे दूसरा ट्वीट कर डाला, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को बेशक यह जानकारी है कि वह न तो भारत से सीधे बात कर सकते हैं और न ही इस मसले पर कूदने की क्षमता है। इसलिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने एक असफल चाल चली और इस मामले पर वैश्विक समुदाय को दखल देने की बात कही। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के अनुसार इस घटना का असर पूरे विश्व पर पड़ेगा।

हिंदी में लिखा लेकिन हमेशा गलत होने की वजह से गलतियां हुई :

अगर आप ने पाक पीएम के द्वारा लिखा गया ट्वीट पढ़ लिया है तो आपको उनकी हिंदी पर भयंकर तरस आया होगा, फिर चाहें वह "अनतकवाडियो" ,"निर्दई", कातरता की मार्ग",घुसबाथिये जैसे शब्दों को लिखा गया है उसमें इमरान खान की भाषागत गलतियां नजर आती है। खैर जो देश ही हर मसले पर गलत हो उसकी भाषा गलत होना कोई बड़ी बात नहीं है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com