MIGAL researchers working vigorously to find a new coronavirus vaccine
MIGAL researchers working vigorously to find a new coronavirus vaccine |Photo Credit (@Jerusalem_Post)
विदेश

इजरायल ने कोरोना की दवा बनाने का किया दावा, पेटेंट कराने की कोशिश में

हालाँकि इजरायली दिमाग का कोई सानी नहीं है, और अब जब इसे जिम्मेदार लोगों द्वारा दुनिया मे पेश किया जा रहा है तो यकीनी तौर ओर यह एक राहत भरी खबर है।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

एंटीबॉडी विकसित करने का दावा :

इजरायल के रक्षामंत्री नफताली बेंनेट ने एक वार्ता में यह दावा किया है कि हमारे देश की रक्षा संबंधी खोज के लिए समर्पित संस्थान डिफेंस बायोलॉजिकल इंस्टिट्यूट ने कोरोना को शरीर मे ही समाप्त करने वाली वैक्सीन को तैयार कर लिया है। ऐसे वक्त में जब दुनिया के सभी देश वैक्सीन के लिए जी जान लगाकर मेहनत कर रहे है तब इजराइल ने ये दावा ठोककर दुनिया को एक नई उम्मीद की किरण दिखाई है।

येरुसलम पोस्ट की एक खबर का ट्वीट:

वैक्सीन करेगी एंटीबॉडी की तरह काम :

इस वैक्सीन के निर्माण में मानव शरीर की बेहद मजबूत संरचना और उसकी प्रतिक्रिया को आधार बनाया गया है। दरअसल ये दवा मानव शरीर के उस एंटीबॉडी निर्माण की तरह काम करती है जिसमे कोरोना के वायरस को शरीर मे ही समाप्त किया जा सकेगा। इसको उदाहरण से समझने के लिए यह जानना जरूरी है कि जब मानव शरीर मे किसी प्रकार के वायरस और बैक्टीरिया का होना पाया जाता है तो शरीर उससे लड़ने के लिए एंटीबॉडी का निर्माण खुद करता है। ऐसी स्थिति में वह एंटीबॉडी ही वायरस से लड़ता है, और इजरायल ने इसी एंटीबॉडी पर कार्य किया है।

रक्षा मंत्री ने यह भी जानकारी दी कि वैक्सीन के निर्माण की सभी प्रक्रिया और चरणों को पूरा कर लिया गया है, निर्माण करने वाले शोधकर्ता इसके पेटेंट और भारी मात्रा में उत्पादन के लिए विभिन्न वैक्सीन निर्माता कंपनियों के साथ काम करने की कोशस में है। दुनिया भर के वैज्ञानिक इस बात को लेकर यह बोलते हुए नजर आ रहे है कि अगर यह बात सही है तो यकीनी तौर पर यह मानवता के लिए बहुत बड़ी राहत होगी।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com