उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
माइक पॉम्पियो
माइक पॉम्पियो|IANS
विदेश

इराक में अपना वाणिज्य दूतावास बंद करेगा-अमेरिका 

अमेरिका ने कहा है कि वह इराकी शहर बसरा में स्थित अपने दूतावास को बंद करेगा।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

वाशिंगटन: अमेरिका ने कहा है कि वह इराकी शहर बसरा में स्थित अपने दूतावास को बंद करेगा। वाशिंगटन ने इसके लिए ईरान और तेहरान समर्थक बलों के बढ़ते खतरे को जिम्मेदार ठहराया है। बीबीसी के अनुसार, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने एक बयान में कहा कि आपात कर्मचारियों को बगदाद स्थांतरित किया जाएगा।

बीबीसी के अनुसार, पॉम्पियो ने कहा कि अमेरिका अपने नागरिकों को किसी भी तरह का नुकसान पहुंचने की स्थिति में ईरान को जिम्मेदार ठहराएगा। इसके साथ ही उन्होंने हाल ही में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास में रॉकेट हमले को रोक नहीं पाने के लिए तेहरान पर आरोप लगाया।

अमेरिका ने यह निर्णय ईरान के साथ बढ़ते तनाव के बीच लिया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के साथ 2015 में हुए परमाणु समझौते से अमेरिका को अलग कर लिया, और उसके बाद ईरान पर दोबारा आर्थिक प्रतिबंध लगा दिया गया है।

बसरा में बीते कुछ हफ्तों के दौरान हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। प्रदर्शकारियों ने पुलिस के साथ झड़प में कई लोगों के मारे जाने के बाद सरकारी और राजनीतिक इमारतों को आग के हवाले कर दिया गया था। इसमें ईरानी दूतावास और ईरान समर्थित अर्धसैनिक बलों का मुख्यालय भी शामिल है।

प्रदर्शनकारी यहां खराब अधारभूत संरचना, दूषित पानी और बेरोजगारी की वजह से सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

आपको बता दें ईरान गृह युद्ध के संकट से जूझ रहा है , अमेरिका द्वारा ईरान के ऊपर लगातार प्रतिबन्ध लगाये जा रहे है , सऊदी अरब देशों के साथ भी ईरान के संबंध लगातार बिगड़ते जा रहे हैं।ईरान ने सऊदी अरब के किंग मोहमद बीन सलमान को खुले शब्दों में चेतावनी दी है की वो ईरान के आपसी मदभेद में दखल ना दें। इसी बीच अमेरिका द्वारा लिया गया यह फैसला बदलते राजनैतिक रिश्तों का संकेत देता है।अमेरिका ने साफ़ शब्दों में कहा है की अमेरिका अपने नागरिकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेता है , इसलिए अमेरिकी सरकार ने ये फैसला लिया।