उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
लॉयन एयर यात्री विमान
लॉयन एयर यात्री विमान
विदेश

इंडोनेशिया का यात्री विमान दुर्घटनाग्रस्त, 188 लोग सवार थे

सुबह 7.15 बजे टगबोट ने बताया कि वे दुर्घटनास्थल के करीब थे और उनके क्रू के सदस्यों ने विमान का मलबा देखा था।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

जकार्ता: इंडोनेशिया का लॉयन एयर यात्री विमान सोमवार को जकार्ता से उड़ान भरने के कुछ ही मिनटों बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में 188 लोग सवार थे। अधिकारियों का कहना है कि बचाव एवं खोज अभियान जारी है।

इंडोनेशिया के आपदा प्रबंधन बोर्ड के प्रमुख सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने ट्वीट कर कहा, "कारावांग के समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए लॉयन एयर जेटी610 विमान के कई टुकड़े बरामद किए गए हैं।"

नुग्रोहो ने कहा कि इस कियाफती विमना में 178 वयस्क, एक बच्चा, दो नवजात, दो पायलट और पांच फ्लाइट अटेंडेंट थे।

लापता यात्री

  • 178 वयस्क
  • 1 बच्चा
  • 2 शिशु
  • 2 पायलट
  • 6 चालक दल

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय खोज एवं बचाव एजेंसी बसारनस और परिवहन मंत्रालय इस स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

737 मैक्स 8 मॉडल का बोइंग विमान जकार्ता से पंगकल पिनांग जा रहा था।

राष्ट्रीय खोज एवं बचाव एजेंसी के प्रवक्ता यूसुफ लतीफ ने कहा, "जकार्ता से उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद ही विमान से संपर्क टूट गया था। उस समय विमान समुद्र के ऊपर से गुजर रहा था। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि कितने लोग इस घटना में जीवित बचे हैं।

उन्होंने कहा कि इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि विमान क्रैश हुआ है।

बीबीसी के मुताबिक, लॉयन एयर विमान ने सुबह 6.20 बजे जकार्ता से उड़ान भरी थी और यह लगभग एक घंटे में पंगकल पिनांग पहुंचने वाला था लेकिन विमान का सुबह 6.33 बजे संपर्क टूट गया।

नुग्रोहो ने विमान के मलबे और विमान से जुड़े सामान की कुछ तस्वीरें ट्वीट कर साझा की।

उन्होंने एक वीडियो भी शेयर किया है।

जकार्ता पोस्ट के मुताबिक, सुबह 6.45 बजे पोत यातायात सेवा अधिकारी सुयादी को एक टगबोट 'एएस जाया द्वितीय' से एक रिपोर्ट मिली कि उनके चालक दल के सदस्यों ने विमान का मलबा देखा है।

उन्हें संदेह है कि यह लॉयन एयर के विमान का मलबा हो सकता है, जो वेस्ट जावा के करावांग में तानजुंग बंगिन के पास समुद्र में तैर रहा था।

सुयादी ने कहा, "सुबह 7.15 बजे टगबोट ने बताया कि वे दुर्घटनास्थल के करीब थे और उनके क्रू के सदस्यों ने विमान का मलबा देखा था।"

विमानन सलाहकार गेरी सोजैटमैन ने बीबीसी को बताया कि मैक्स8 में बेड़े में शामिल करने के बाद से कई दिक्कते थीं।

--आईएएनएस