उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
महात्मा गांधी
महात्मा गांधी |Source- Getty Image
विदेश

महात्मा गाँधी के जन्मदिन पर इस देश ने निकली ‘दांडी मार्च’ यात्रा 

उनका जन्मदिन इसीलिए मनाया जा रहा है, और यह जितना आस्ट्रेलिया में प्रासंगिक है, उतना ही भारत में और कई अन्य देशों में।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

सिडनी: आस्ट्रेलिया में युनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स (यूएनएसडब्ल्यू) परिसर में मंगलवार को महात्मा गांधी की जयंती पर एक प्रतीकात्मक दांडी यात्रा आयोजित की गई, जिसका नेतृत्व बच्चों ने किया।

भारत के महावाणिज्यदूत बी. वनलालवाना ने कहा कि गांधी के विचार और मूल्य अभी भी प्रासंगिक हैं और उन्हें याद करना उन विचारों का एक जश्न है।

यूएनएसडब्ल्यू के प्रो. कुलपति (अंतर्राष्ट्रीय) लौरी पियर्सी ने कहा कि युनिवर्सिटी के पुस्तकालय को अगले दो सप्ताहों तक भारतीय तिरंगे के रंग वाली रोशनी से जगमग किया जाएगा।

आईएएनएस द्वारा प्राप्त जानकरी के अनुसार, उन्होंने कहा, "गांधी परिवर्तन और प्रतिरोध के एक पैरोकार थे, बल्कि सद्भाव, सहिष्णुता और सहयोग के भी। उनका जन्मदिन इसीलिए मनाया जा रहा है, और यह जितना आस्ट्रेलिया में प्रासंगिक है, उतना ही भारत में और कई अन्य देशों में।"

यह आयोजन गांधी की कांस्य अर्धप्रतिमा के समक्ष आयोजित किया गया, जिसे भारत सरकार ने यूएनएसडब्ल्यू को 2010 में भेट किया था।

पियर्सी ने कहा कि यह विश्वविद्यालय द्वारा पेश किए गए सुरक्षित और सौहार्द्रपूर्ण वातावरण का प्रतीक है, जहां लगभग 1,200 भारतीय विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करते हैं।

उन्होंने कहा कि यूएनएसडब्ल्यू के लिए भारत पिछले 30 सालों से एक महत्वपूर्ण देश रहा है और 2025 अपनी रणनीति के हिस्से के रूप में युनिवर्सिटी आस्ट्रेलिया-भारत रिश्ते में दीर्घकालिक वृद्धि के लिए प्रतिबद्ध है।

आपको बता दें की इस वर्ष पूरा विश्व में महात्मा गाँधी का 150वां जन्मदिन मनाया गया है। अलग अलग देशों ने उनके जन्मदिन पर प्रार्थना सभा ,मार्च , श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया।महात्मा गांधी के विचरों से पूरा देश हे नहीं पूरा विश्व प्रभावित है। उनके द्वारा लिखे गई किताब " The story of my experiment with truth” ,The way to God”, “India of my Dreams” को विश्व प्रदर्शनी में लगया गया है। साथ ही युनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स ने युनिवर्सिटी के पुस्तकालय को अगले दो सप्ताहों तक भारतीय तिरंगे के रंग कि रोशनी में रखने का फैसला लिया है।