WHO Funding by US
WHO Funding by US|Google
विदेश

डोनेशन छोड़िये WHO को सदस्य्ता शुल्क भी नहीं देगा अमेरिका

अमेरिका विश्व स्वास्थ्य संगठन से खासा नाराज चल रहा है अमेरिका को लग रहा है कि WHO और चीन ने मिलकर कोरोना वायरस पर दुनिया को अँधेरे में रखा। 

Deo Prakash Kushwaha

Deo Prakash Kushwaha

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि महामारी की रोकथाम में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कारगर काम नहीं किया, इसलिये अमेरिका विश्व स्वास्थ्य संगठन को सदस्यता शुल्क न देने का विचार कर रहा है। इस पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लीच्येन ने 8 अप्रैल को पेइचिंग में आयोजित नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस समय विश्व में महामारी तेजी से फैल रही है।इस वक्त अमेरिका की कार्रवाई विश्व स्वास्थ्य संगठन के सामान्य संचालन पर गंभीर असर पड़ेगा, जो महामारी की रोकथाम में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के लिए लाभदायक नहीं है। साथ ही उन्होंने आशा जताई कि विभिन्न देश एक दूसरे की सहायता कर महामारी की रोकथाम में अपना योगदान दे सकेंगे।

चीनी प्रवक्ता चाओ लीचेन ने यह भी कहा कि कोविड-19 फैलने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन ने महानिदेशक ट्रेडोस अधानोम गेब्रेयेसुस के नेतृत्व में सक्रिय रूप से अपनी जिम्मेदारी निभायी है, और महामारी की रोकथाम में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की, जिसे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की स्वीकृति और उच्च प्रशंसा प्राप्त हुई है। चीन पहले की तरह विश्व स्वास्थ्य संगठन का समर्थन देगा, और विश्व में महामारी की रोकथाम में विश्व स्वास्थ्य संगठन के नेतृत्व का समर्थन करेगा।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com