pakistani journalist praising yogi adityanath
pakistani journalist praising yogi adityanath|Google Image
विदेश

योगी के राज्य को पाकिस्तान से मिली तारीफें, योगी के काम को सराहा

पाकिस्तान के एक सीनियर पत्रकार ने कोरोना प्रकोप पर यूपी और पाकिस्तान की तुलना की।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

पाकिस्तान के हालत उत्तर प्रदेश से भी बदतर है जहाँ पर कोरोना विष्फोट से लोगों की जान हर रोज भारी संख्या में जा रही है। इसको लेकर पाकिस्तान के एक बड़े एडिटर ने एक ग्राफ के साथ पाकिस्तान की तुलना उत्तर प्रदेश से की है जिसमें पाकिस्तान के हालात को बदतर दिखाया गया है।

कहा हम उत्तर प्रदेश से बदतर:

पाकिस्तान के एक बहुत बड़े एडिटर ने एक ट्वीट करके उत्तर प्रदेश सरकार और उसके द्वारा कोरोना के खिलाफ लड़ी गयी लड़ाई को सराहा है। दरअसल फहद हुसैन पाकिस्तान के अंग्रेजी पत्रकार डॉन में रेसिडेंट एडिटर के तौर पर कार्य करते है साथ ही उनके द्वारा पाकिस्तान में प्रचलित "इन फोकस" न्यूज शो में भी मुख्य एंकर की भूमिका में रहते है, फहद के द्वारा ट्विटर पर एक ग्राफ के जरिये कोरोना पर पाकिस्तान और उत्तर प्रदेश के बीच तुलना की है। फहद के अनुसार उत्तर प्रदेश और पाकिस्तान काफी हद तक समानता रखते हैं। जहाँ उत्तर प्रदेश और पाकिस्तान की प्रोफाइल काफी हद तक एक जैसी नजर आती है जिसमे शिक्षा, जनसंख्या घनत्व, जीडीपी इत्यादि आस-पास ही है। उसके बावजूद भी भारी जनसंख्या के के चलते भी उत्तर प्रदेश कोरोना की लड़ाई में पाकिस्तान से आगे रहा। इसका मुख्य कारण है लॉक डाउन का सख्ती से पालन। पाकिस्तान और उत्तर प्रदेश में मृत्यु दर देखें।

फहद ने महाराष्ट्र समेत मोदी के गृह राज्य गुजरात से भी की तुलना :

ऐसा नहीं कि इस मामले में भारत को केवल वाहवाही मिली है बल्कि इसके साथ अगले ग्राफ में महाराष्ट्र और गुजरात की तुलना भी पाकिस्तान से की गई है जिसमें पाकिस्तान का प्रदर्शन ज्यादा बेहतर रहा है। मजे की बात तो यह है कि ये दोनों राज्य पैसे से सम्पन्न राज्यों में आते है जहां पर फहद ने गलत नीतियों के कारन को इस बीमारी के फैलने का मुख्य कारण बताया है।

गुजरात और पाकिस्तान:

महाराष्ट्र और पाकिस्तान:

यहाँ गौर करने वाली बात यह है कि इन राज्यों में न तो पैसो की कोई कमी है और न ही शिक्षा की अब इसे योगी सरकार का प्रबंधन ही कहें कि कोरोना पर इतना अंकुश लग पाया है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com