उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Poverty alleviation project to be completed in China
Poverty alleviation project to be completed in China|IANS
विदेश

चीन में 70 लाख लोग गरीबी की दलदल से बाहर निकले 

भारत को चीन से सीख लेने कि जरुरत

Ashutosh

Ashutosh

चीन में गरीबी उन्मूलन रिहायशी मकान स्थानांतरण परियोजना के निर्माण में निर्णायक प्रगति हासिल हुई। वर्तमान में विभिन्न स्थलों में करीब 90 प्रतिशत वाले नागरिकों को स्थानांतरण के बाद सरकारी कदमों से समर्थन मिला है। इस तरह 70 लाख लोग गरीबी की दलदल से बाहर निकले हैं। गरीबी उन्मूलन के तहत रिहायशी मकान का स्थानांतरण चीन में गरीबी उन्मूलन कार्य की परियोजना है। 13वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान (2016 से 2020 तक) चीन में 98 लाख 15 हजार गरीब जनसंख्या को रिहायशी मकान का स्थानांतरण करना है, जिनमें क्वेइचो, शानशी, सछ्वान और हूपेइ चार प्रांतों तथा क्वांगशी च्वांग स्वायत्त प्रदेश में क्रमश: 10 लाख लोगों को स्थानांतरण करना है।

चीनी राष्ट्रीय विकास और सुधार समिति के क्षेत्रीय उत्थान विभाग के प्रमुख थोंग चांगश्वुन के मुताबिक, अभी तक रिहायशी मकान के स्थानांतरण वाली परियोजना के निर्माण में निर्णायक प्रगति हासिल हुई। 13वीं पंचवर्षीय योजना के तहत 96 प्रतिशत रिहायशी मकानों का निर्माण पूरा हो चुका है। अब तक 80 लाख लोग स्थानांतरित होकर नए मकान में रह रहे हैं।

यहां बता दें कि चीन का लक्ष्य है कि साल 2020 में वर्तमान मापदंड के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब जनसंख्या पूरी तरह गरीबी से मुक्त हो जाए।

चीन में तैयार मेट्रो भारत में संचालित होगी तो चीन ही आमिर होगा:

चीन के सीआरआरसी ताल्यान कंपनी ने कहा कि भारत के नागपुर मेट्रो परियोजना की पूर्व-पश्चिम लाइन औपचारिक तौर पर शुरू हो गई और इस लाइन की सभी मेट्रो चीन के सीआरआरसी ताल्यान कंपनी द्वारा निर्मित की गई हैं। महाराष्ट्र के नागपुर में उत्तर-दक्षिण लाइन और पूर्व-पश्चिम लाइन संचालित हो रही हैं। मेट्रो मार्ग की कुल लंबाई 38.215 किलोमीटर है। इनमें कुल 23 मेट्रो चल रही हैं, हर मेट्रो में तीन कोच लगे हैं और इसकी सबसे तेज गति 80 किलोमीटर प्रति घंटा है। मेट्रो में एक साथ 974 लोग सवार हो सकते हैं।

चीन की सीआरआरसी ताल्यान कंपनी ने कहा कि अब तक उसने कुल 25 देशों और क्षेत्रों के साथ निर्यात समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

(साभार---चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)