उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
इमरान खान और आसिफ अली जरदारी 
इमरान खान और आसिफ अली जरदारी |Google
विदेश

पाकिस्तान में लगा नारा “देश को बचाना है तो इमरान खान को हटाना है”

इमरान खान ने पाकिस्तान को बर्बाद कर दिया। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

खबर मिली है कि इमरान खान ने पाकिस्तान को बर्बाद कर दिया। यह हम नहीं कह रहे, यह बात पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी कह रहे हैं। उनका मानना है कि इमरान खान ने पाकिस्तान का नाम पूरी दुनिया में ख़राब कर दिया है। इमरान खान को जल्दी हटाया नहीं गया तो पाकिस्तान तबाह हो जाएगा, बर्बाद हो जाएगा।

इमरान खान ऐसे नेता हैं जिन्हें ना तो देश की परवाह है और ना ही खुद की। वो जब तक पाकिस्तान के वजीरे-आजम हैं तब तक पाकिस्तान का भला नहीं हो सकता। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने लोगों से अपील करते हुए कहा इमरान खान को सत्ता से बेदखल करने का समय आ गया है।

दरअसल पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने मंगलवार को दौलतपुर में इफ्तार दावत के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, “प्रधानमंत्री को अगर जल्द नहीं हटाया गया, तो वे देश को वहां ले जाएंगे जहां हम भी देश को नहीं चला सकेंगे।”

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी

समाचार पत्र डॉन ने जरदारी के हवाले से कहा, "मैं सत्ता का भूखा नहीं हूं, लेकिन वर्तमान सरकार को जरूर हटाना चाहिए। अन्यथा, ज्यादातर लोगों का जीवन नरक बन जाएगा। उन्होंने इसके बाद कहा कि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ईद के बाद अपना घोषणापत्र जारी करेगी और अपनी योजनाओं की घोषणा करेगी जो अंत के शुरुआत का संकेत होगा।"

इमरान खान पर आरोप

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि इमरान खान पाकिस्तान में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ा रहे हैं। जिसके बाद उन्होंने देश को बचाने और लोगों के कष्ट दूर करने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान को तत्काल हटाने का आवाह्न किया है। जरदारी ने इमरान खान पर आरोप लगाते हुए कहा कि यदि इमरान खान की सरकार को नहीं हटाया जाता है तो देश के लोगों का जीवन नरक बन जाएगा।

क्या है मामला

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी दोनों अलग पार्टी से तालुख रखते हैं। जरदारी पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के समर्थक हैं। उनका मानना है कि इमरान खान जब देश के प्रधानमंत्री बने तो लोगों को उनसे काफी उम्मीदें थी लेकिन उन्होंने कुछ किया नहीं। इमरान खान ने लोगों की नौकरियां छीन लीं और महंगाई आसमान छूने लगी है। ऐसे में इमरान खान को इस्तीफा देना चाहिए। देश की बेरोजगारी और महंगाई 500 प्रतिशत तक बढ़ गई है और इसका कारन इमरान खान हैं।