उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
इमरान खान
इमरान खान|Google
विदेश

इमरान खान के लिए सांप की खाल से बनाई थी सैंडल, पुलिस पकड़ कर जेल ले गई  

बड़े शौकीन हैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

हमारे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से एक खबर मिली है। खबर भी पाकिस्तान की तरह थोड़ी अजीब है। पाकिस्तान के डॉन मीडिया के मुताबिक कहा गया है कि एक गुप्त सूचना के आधार पर पाकिस्तानी अधिकारियों ने चप्पल बनाने की फैक्ट्री 'अफगान चप्पल हाउस' पर छापा मारा हैं। कारण पूछने पर पता चला कि इस चप्पल बनाने वाली दुकान ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए सांप की खाल से सैंडल बनाई थी। इसलिए उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

'अफगान चप्पल हाउस' के मालिक, नुरुद्दीन शिनवारी हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बड़े फैन हैं। जब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया तो उन्होंने अपने बचाव में कहा कि

“सांप की खाल को अमेरिका से भेजा गया था और इनसे दुकान में ‘कप्तान चप्पल’ के दो जोड़े तैयार करने के लिए कहा गया था। एक सैंडल खाल भेजने वाले के लिए और दूसरी इमरान खान के लिए बनाने को कहा गया।”

नुरुद्दीन शिनवारी

क्या है ममला

यह मामला पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत का है। जहां वन्यजीव विभाग के अधिकारियों ने एक फुटवियर की दुकान से प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए सांप की खाल से बनाई सैंडल जब्त की। खैबर पख्तूनख्वा के वन अधिकारी वन्यजीव अलीम खान ने बताया कि वन्यजीव विभाग जब्त किए गए फुटवेयर मैटेरियल के लिए एक सत्यापन प्रक्रिया शुरू करेगा। अगर इसकी जांच में दुकानदार को दोषी पाया गया तो उसपर कार्यवाई होगी।

क्या है कानून

पाकिस्तानी कानून के अनुसार सांप की खाल से सैंडल बनाना गैरकानूनी है। खैबर पख्तूनख्वा के पर्यावरण मंत्री इश्तियाक उरमुर ने कहा कि "चाहे किसी के लिए भी सैंडल बनाई जा रही हों, एक गैरकानूनी कृत्य कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।"

“अगर यह साबित हो जाता है कि चप्पल वास्तव में सांप की खाल से बनी हैं, तो फिर इसे बनाने वाले मोची को कानूनी परिणामों का सामना करना पड़ेगा और साथ ही एक अच्छा जुर्माना भी भरना होगा अगर वह आवश्यक दस्तावेज नहीं दिखा पाता कि खाल को कानूनी रूप से आयात किया गया है।”

पर्यावरण मंत्री इश्तियाक उरमुर

आपको बता दें कि साल 2015 में पारंपरिक पेशावरी चप्पल को नुरुद्दीन द्वारा 'कप्तान चप्पल' के रूप में लॉन्च किया गया था।