उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
pm modi
pm modi|google image
विदेश

सर्जिकल स्ट्राइक 2 के बाद पाकिस्तान में सबसे ज्यादा गूगल पर पीएम मोदी को किया गया सर्च

26 फरवरी को हुए एयर स्ट्राइक के बाद वर्ल्डवाइड नरेंद्र मोदी को लेकर गूगल सर्चिंग बढ़ी है। 

Anuj Kumar

Anuj Kumar

देश में जहां एक तरफ पिछले दो दिनों से अफरा-तफरी का माहौल है। हर दो मिनट बाद न्यूज चैनलों पर बेकिंग न्यूज दिखाई जा रही है। तो वही दूसरी तरफ लोग गूगल सर्च कर भी जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे हैं। पिछले दो दिनों में लोगों ने गूगल में सबसे ज्यादा सर्च प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को किया है। जबकि इमरान खान को बेहद कम लोगों ने सर्च किया। पाकिस्तान में भी पीएम मोदी को सबसे ज्यादा सर्च किया गया।

दरअसल, 26 फरवरी को हुए एयर स्ट्राइक के बाद से ही लोग गुगल में इस अटैक से जुड़ी जानकारी जुटाने में लग गए थें। भारत की बात करें तो 26 फरवरी को भारत में जिस कि-वड्र्स को सबसे ज्यादा सर्च किया गया है। उसमें सर्जिकल स्ट्राइक 2, बालाकोट, पुलवामा जैसे वड्रस है। गूगल सर्च में बालाकोट अटैक, एयर स्ट्राइक, पुलवामा का बदला, पुलवामा एयर स्ट्राइक जैसे की-वड्र्स सर्च हुए। दरअसल, आतंक पर भारत का ये सबसे जबरदस्त और जोरदार हमला था। ये स्ट्राइक इसलिए भी ख़ास है क्योंकि ये पहला मौका है जब भारतीय वायुसेना पाकिस्तान में घुसकर वहां के आतंकी कैपों को निशाना बनाया।

इसके अलावा पाकिस्तान में टमाटर की कीमत भी गूगल ट्रेडिंग में रहा। दरअसल, भारत ने एयर स्ट्राइक से पहले पाकिस्तान को पहले आर्थिक स्तर और फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पूरी तरह से अलग-थलग करने की कोशिश की और भारत इस कोशिश में कामयाब भी रहा।

वहीं पाकिस्तान में 26 फरवरी को हमले की खबर मिलने के बाद से ही नरेंद्र मोदी को सबसे ज्यादा सर्च किया गया। लगभग 1.30 बजे पाकिस्तान में सबसे ज्यादा किसी की-वड्र्स को सर्च किया गया वो थे नरेंद्र मोदी। गूगल सर्च में भारत के प्रधानमंत्री का इस तरह पाकिस्तान में सर्च करना इस बात का साफ संकेत है कि पाकिस्तान एयर स्ट्राइक पर बुरी तरह से घबराया हुआ है।

26 फरवरी को केवल पाकिस्तान में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में भी नरेंद्र मोदी को सबसे ज्यादा बार सर्च किया गया। इसी दिन इमरान खान की भी सर्च किया गया। लेकिन पीएम मोदी की तुलना में ये काफी कम रहा। दरअसल, 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही पीएम मोदी के निर्णयों ने लोगों को चौकाया है। विश्व स्तर में भी पीएम मोदी ने अपनी अलग पहचान बनाई है। 26 फरवरी को आतंक के खिलाफ भारत की कार्रवाई ने एक बार फिर पूरी दुनिया को ये संदेश देने में कामयाब रहा है कि जो भारत की संप्रभुता पर हमला करेंगा उससे भारत मिट्टी में मिला देगा।