Loksabha Election 2019: पांच बार जब एग्जिट पोल से बिलकुल अलग थे वास्तविक नतीजे

अभी तो पिक्चर बाकी है।
Loksabha Election 2019: पांच बार जब एग्जिट पोल से बिलकुल अलग थे वास्तविक नतीजे
Exit Polls Loksabha Election 2019Google

2019 का लोकसभा चुनाव अब समाप्त हो चुका है। तमाम एजेंसी एग्जिट पोल के जरिए बताने में जुट गई हैं कि दिल्ली की चाभी किसके पास होगी। राजनीतिक गलियारों में यह सवाल तेजी से कौंध रहा है कि क्या मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनेगे ? अब तक के एग्जिट पोल में आए नतीजों को देखने से भी यही लग रहा है कि मोदी के लिए सत्ता तक पहुंचने का रास्ता साफ है। लेकिन कई बार ऐसा भी हुआ है जब एग्जिट पोल के नतीजे गलत साबित हुए हैं।

चलिए जानते हैं -

2004 का लोकसभा चुनाव

2004 का लोकसभा चुनाव - बीजेपी, कांग्रेस, अन्य

सी-वोटर -इंडिया टुडे ग्रुप - 263, 190, 120

चुनाव परिणाम - 187, 219, 137

2004 का लोकसभा चुनाव अपने आप में बेहद खास था। उस साल बीजेपी के सबसे काबिल नेता अटल बिहारी वाजयेपी छह साल तक शासन करने के बाद दोबारा प्रधानमंत्री पद के दावेदार थे। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनावों में लगातार जीतने के बाद, अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने संसद को जल्दी ही भंग कर दिया। उन्हें उम्मीद थी की वो इस बार पूर्ण बहुमत की सरकार बना लेंगे। 'शाइनिंग इंडिया’ के नारे के साथ वाजयेपी ने अपना प्रचार शुरू किया। उस साल भी एग्जिट पोल ने भविष्यवाणी की थी कि एनडीए बहुमत के साथ जीतकर 240 से 250 सीटों के साथ संसद में लौटेगी। लेकिन वास्तविक परिणाम इसके ठीक विपरीत था। क्योंकि बीजेपी ने उस साल सिर्फ 187 सीटें ही हासिल की थी।

2014 का लोकसभा चुनाव

2014 का लोकसभा चुनाव - बीजेपी, कांग्रेस, अन्य

सी-वोटर -इंडिया टुडे ग्रुप 261-283, 110-120, 150-162

चुनाव परिणाम 336, 60, 147

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी शुरुआत से ही विजय रथ पर सवार थे। कांग्रेस सरकार के काल में हुए भ्रष्टाचार, महंगाई, गरीबी, हिंसा से जनता त्रश्त हो चुकी थी। इस लोकसभा चुनाव में अन्ना हज़ारे के आंदोलन ने जलती आग में घी का काम किया। हालांकि, उस साल अधिकांश एग्जिट पोल में भविष्यवाणी की गई थी कि बीजेपी बड़े अंतर से 2014 का लोकसभा चुनाव जीतेगी, लेकिन उनमें से किसी ने भी बहुमत की भविष्यवाणी नहीं की थी। लेकिन बाद में आए चुनाव परिणाम ने सबको चौंका दिया। इस चुनाव ने कांग्रेस को केवल 44 सीटों पर समेट दिया था।

यूपी का विधानसभा चुनाव 2017

यूपी का विधानसभा चुनाव 2017- बीजेपी, कांग्रेस, अन्य

सी-वोटर -इंडिया टुडे ग्रुप 251-279, 28-42, 28-43

चुनाव परिणाम- 325, 19, 47

मोदी सरकार द्वारा नोटबांदी के बड़े फैसले के बाद हुआ उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव पूरी तरह एकतरफा था। उत्तर प्रदेश की सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी ने बीजेपी को हराने के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन किया और एग्जिट पोल ने भी भविष्यवाणी की, कि बीजेपी यहां हारने वाली है। लेकिन चुनाव के बाद आए वास्तविक परिणाम हैरान करने वाले थे। इस चुनाव में बीजेपी 300 से अधिक सीटें जीतीं और बहुमत के साथ सरकार बनाई।

बिहार का विधानसभा चुनाव 2015

2015 बिहार विधानसभा चुनाव- BJP, JDU, अन्य

सी-वोटर -इंडिया टुडे ग्रुप 120, 117, 6

चुनाव परिणाम 58, 178, 0

2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में कुछ ऐसा हुआ जिसकी उम्मीद किसी को नहीं थी। एग्जिट पोल ने इस चुनाव में जो भविष्यवाणी की वो सही साबित नहीं हो सकी । एग्जिट पोल ने इस चुनाव में भविष्यवाणी की थी कि इस बार बिहार में मिलीजुली सरकार बनेगी। लेकिन नतीजा कुछ और निकला। इस चुनाव में राजद-जदयू-कांग्रेस टीम ने बढ़त बनाते हुए परिणाम अपने नाम कर लिया और राजद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी।

दिल्ली का विधानसभा चुनाव 2015

2015 दिल्ली विधानसभा चुनाव बीजेपी, कांग्रेस, आप

सी-वोटर -इंडिया टुडे ग्रुप- 23-27, 1-3, 35-46

चुनाव परिणाम - 3, 0, 67

2015 का दिल्ली विधानसभा चुनाव कांग्रेस और बीजेपी के लिए लोकतंत्र का जोरदार तमाचा था। इस चुनाव में किसी भी एग्जिट पोल ने 'आम आदमी पार्टी’ की जीत की भविष्यवाणी नहीं की थी। जब अंतिम परिणाम आए तो न केवल देश को बल्कि दो सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों बीजेपी और कांग्रेस को भी बड़ा झटका मिला।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com