उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Azam Khan
Azam Khan|IANS
इलेक्शन बुलेटिन

आजम के घर के पास पकड़े गये फर्जी बूथ एजेंट

वोटरों को भड़काने के लिए फर्जी एजेंट बनाये गए

Uday Bulletin

Uday Bulletin

उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 11 सीटों के उप चुनाव में सोमवार को मतदान जारी है। इसी क्रम में रामपुर सदर पर उपचुनाव के दौरान सपा सांसद आजम खान के घर के पास फर्जी बूथ एजेंट पकड़े गए है। पुलिस सभी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। रामपुर के जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया,

"अब तक जो जानकारी मिली है एक निर्दलीय उम्मीदवार जावेद के सारे मतदान एजेंट फर्जी हैं। इनमें से 20 एजेंट को गिरफ्तार किया गया है, जो निर्दलीय उम्मीदवार जावेद के लिए बनाए गए थे। इनका जावेद से कोई लेना देना नहीं है।

यह समाजवादी पार्टी के ही कार्यकर्ता हैं। ऐसा ही एक कांग्रेस प्रत्याशी का एजेंट पकड़ा गया है, जो निर्दलीय उम्मीदवार के नाम से एजेंट बनाया गया था। डीएम का कहना है इन सभी से पूछताछ की जा रही है। वोटरों को बहकाने के कारण जावेद को भी हिरासत में लेकर पूछताछ जा रही है

उन्होंने कहा, "इसके अलावा तीन डीएलओ भी गिरफ्तार किए गए हैं। उनके नाम सीमा राठौड़, ताजिया और मुमताज हैं। ये हादी जुनियर हाईस्कूल के मतदान केंद्र में ड्यूटी कर रहे थे, जहां ये सरकारी पर्ची बांटने के बजाए कच्ची पर्ची बांट रहे थे, जिनसे डीएम पूछताछ कर रहे हैं।"

ज्ञात हो कि 2019 के लोकसभा चुनाव में रामपुर लोकसभा सीट से आजम खान के सांसद बनने के बाद खाली हुई है। रामपुर सीट से इस बार सपा ने आजम की पत्नी तंजीन फातिमा को मैदान में उतारा है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से इस सीट से भारत भूषण उम्मीदवार हैं। बसपा ने जुबैर मसूद खान को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस ने अरशद अली खान पर दांव खेला है। रामपुर सीट पर लगभग 3 लाख 81 हजार मतदाता हैं, इनमें से लगभग 57 फीसदी मुसलमान हैं।

आजम खान पर लगभग 80 आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें बकरी चुराने से लेकर, मुर्गियां चुराने तक के आरोप हैं। आजम खान अपनी पत्नी का चुनाव प्रचार करते हुए भावुक अपील कर चुके हैं।