उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
SP-BSP Allaince
SP-BSP Allaince|Twitter
इलेक्शन बुलेटिन

Loksabha Election 2019: राफेल सौदे को घोटाला क्यों बोल रही हैं मायावती ?

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने शुक्रवार को राफेल मुद्दे पर एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

2019 का लोकसभा चुनाव अपने आप में अदभुत है। तीन दलों (बीजेपी, कांग्रेस और महागठबंधन) के बीच बटे इस चुनाव में भावी प्रधानमंत्री के चेहरे भी कई हैं। बीजेपी की और से प्रधानमंत्री मोदी, कांग्रेस की और से राहुल गांधी (हालांकि इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है) और महागठबंधन की और से मायावती, ममता बनर्जी, अरविन्द केजरीवाल, शरद पवार, तेजश्वी यादव सहित कई अन्य भावी प्रधानमंत्री के चेहरे हैं।

उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के गठबंधन के बाद मायावती बीजेपी और कांग्रेस पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ती। बसपा प्रमुख मायावती ने एक बार फिर बोफोर्स और राफेल घोटाले के नाम पर कांग्रेस और बीजेपी को लताड़ लगाई है।

मायावती ने कहा कि बोफोर्स की तरह राफेल भी भ्रष्टाचार का प्रतीक बन गया है। उन्होंने ट्वीट किया, "बहुचर्चित राफेल विमान सौदे में अपने बचाव में संसद व अदालत में भी बदलते तेवर व तर्क से मोदी सरकार लगातार अपनी फजीहत खुद ही करवा रही है। राफेल भी बोफोर्स की तरह गंभीर सरकारी भ्रष्टाचार का प्रतीक बन गया है। वैसे कोई भी सरकार देशहित के मामले में इतनी लापरवाह कैसे हो सकती है?"

इसके साथ ही मायावती ने यूपी बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया है कि यूपी बीजेपी सरकार ने लोकलाज त्याग कर लोकसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले निगम/आयोग में अध्यक्ष आदि पद पर मनोयन कर थोक भाव में रेवड़ियाँ बांटी। एैश करो अच्छे दिन हैं। एमपी में कांग्रेस भी पीछे नहीं रही। लेकिन याद रहे कि पब्लिक सब समझती है। चुनाव में पूरा हिसाब चुकता करेगी।

मायावती ट्विटर पर सक्रिय होने के बाद से ही प्रधानमंत्री मोदी और योगी सरकार को निशाने पर ले रहीं है। मायावती के ट्विटर पर 14 हज़ार फॉलोवर हैं। उन्होंने पिछले साल साल अक्टूबर में ट्विटर जॉइन किया था।

आपको बता दें कि, मायावती ने आज पार्टी के लोकसभा प्रभारियों व जोनल कोऑर्डिनेटरों संग बैठक की और समाजवादी पार्टी (सपा) कार्यकर्ताओं के साथ सामंजस्य बिठाकर प्रचार-प्रसार की तैयारी का निर्देश दिया। बैठक में मौजूद जन सेना पार्टी के प्रमुख पवन कल्याण ने कहा की, हम बहन मायावती जी को देश की भावी प्रधानमंत्री के रूप में देखते हैं। वे प्रधानमंत्री बनें ये हमारी प्रबल इच्छा है।