Arvind Kejriwal Accuses Election Commision 
Arvind Kejriwal Accuses Election Commision |Google
इलेक्शन बुलेटिन

आम आदमी पार्टी आपा क्यों खो देती है? मतदान के आंकड़े आने में देरी होने पर लगाये आरोप।

आंकड़े जारी होने में जरा सी देर क्या हुयी आम आदमी पार्टी के नेता चुनाव आयोग पर ही भड़ास निकालने लगे।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

चुनाव है तो विपक्षी पार्टियों पर आरोप लगना बेहद आम है, लेकिन अगर आरोप चुनाव कराने वाली संस्था पर ही हो तो मामला अलग हो जाता है, हालांकि ये पहली बार नहीं है जब कांग्रेस और आम आदमी पार्टी समेत सपा, बसपा ने चुनाव आयोग पर आरोप लगाये हो। लेकिन अब यह बात हर चुनाव के बाद आम हो गयी है, लगभग हर चुनाव के बाद या तो चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर उंगली उठाई जाती है या फिर ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की प्रबल संभावना जताई जाती है, चुनावों में आम आदमी पार्टी के द्वारा ईवीएम मशीनों की सुरक्षा भी की गई है।

केजरीवाल ने उठायी उंगली :

वैसे चुनावों के पहले और बाद में आईटी सेल लगातार सक्रिय रहती है लेकिन जब कोई जिम्मेदार व्यक्ति इस पर उंगली उठा देता है तो बात लंबी खिंच जाती है, खुद अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा..

“बिल्कुल चकित कर देने वाला, चुनाव आयोग वोटिंग के घंटो बीत जाने के बाद मतदान के आंकड़े जाहिर क्यों नहीं कर रहा”

मनीष सिसोदिया दो कदम आगे निकल गए :

आम आदमी पार्टी में नंबर दो की हैसियत रखने वाले नेता मनीष ने अरविंद केजरीवाल से आगे बढ़कर स्वायत्त संस्था चुनाव आयोग पर एक अजीब तरह का आरोप लगा दिया, मनीष के अनुसार क्या चुनाव आयोग इस लिए आंकड़े नहीं जाहिर कर रहा क्योंकि उसे वो आंकड़े भाजपा से प्राप्त होने है ?

आम आदमी पार्टी के दूसरे बड़े नेता संजय सिंह ने मतपत्र वाले मतदान की याद दिलाकर चुनाव आयोग को घेरा।

संजय सिंह यहीं नही रुके बल्कि आम आदमी पार्टी की तरफ से प्रेस कांफ्रेंस करके चुनाव आयोग पर लांछन लगाये की आखिर मतदान का डाटा अभी तक जाहिर क्यों नहीं किया गया।

हालांकि देर शाम चुनाव आयोग ने प्रेस वार्ता करके सभी आरोपों को धता बता दिया और आंकड़े जुटाने की जटिल प्रक्रिया को समझाते हुए सभी आंकड़े जाहिर कर दिए, लेकिन इतनी बड़ी संस्था पर जो आरोप लगे उनका क्या ?

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com