Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
Jind By Poll Results: जींद में बजा बीजेपी का डंका
Jind By Poll Results: जींद में बजा बीजेपी का डंका|Twitter
इलेक्शन बुलेटिन

Jind By Poll Results: जींद में बजा बीजेपी का डंका, कांगेस को हार से करना पड़ा संतोष 

Jind By Poll Results: जींद विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान 28 जनवरी को हुआ था जिसमें 1.72 लाख मतदाताओं में से लगभग 76 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

चंडीगढ़: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कृष्णलाल मिड्ढा ने हरियाणा की जींद विधानसभा सीट (Jind By Poll Results) पर हुए उपचुनाव में 12,945 वोटों के अंतर से जीत हासिल की है। यह पहली बार है जब भाजपा (BJP) ने जाट समुदाय की असर वाली जींद विधानसभा सीट पर जीत हासिल (BJP wins Jind By Poll Results) की है। हालांकि, कृष्णलाल मिड्ढा जाट समुदाय से नहीं हैं।

इस जीत से खुश मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने चंडीगढ़ में कहा, "लोगों ने एक बार फिर राज्य और केंद्र में भाजपा सरकार की नीतियों, शासन और पारदर्शिता पर अपना विश्वास जताया है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कड़ी मेहनत की।"

दो बार के इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) विधायक हरिचंद मिड्ढा के पिछले साल अगस्त में निधन के कारण यह उपचुनाव हुआ जिसे उनके बेटे कृष्णलाल मिड्ढा ने जीत लिया है।

आपको बता दें कि, साल 1972 के बाद कोई जाट समुदाय का प्रत्याशी जींद में चुनाव नहीं जीत पाया है। रणदीप सुरजेवाला की उम्मीदवारी से ऐसा लग रहा था कि जींद का यह रिकॉर्ड टूट जाएगा इस बार, मगर आज भी जाट समुदाय का कोई नेता नहीं जीत पाया और यह रिकॉर्ड कायम रह गया। रणदीप सुरजेवाला कांग्रेस के दिग्गज नेता हैं और जाट समुदाय से ही आते हैं। वे उपचुनाव में तीसरे नंबर पर रहे।

पिछले दो चुनावों में इस सीट पर विजेता रही इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) 1,350 वोटों के साथ पांचवें स्थान पर आ गई है। चौथे स्थान पर लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी (एलएसपी) है ।

उपचुनाव के लिए मतदान 28 जनवरी को हुआ था जिसमें 1.72 लाख मतदाताओं में से लगभग 76 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

लोकसभा और विधानसभा चुनाव के मद्देनजर यह चुनाव सभी चार प्रमुख दलों सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP), कांग्रेस, इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और हाल ही में स्थापित जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के लिए एक परीक्षा मानी जा रही थी। जिसे बीजेपी ने जीत लिया है।

दो बार के इनेलो विधायक हरि चंद मिड्ढा के निधन के बाद उपचुनाव हुआ है जिनके बेटे कृष्ण मिड्ढा भाजपा के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरे हैं।

--आईएएनएस