उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
मीजो नेशनल फ्रंट क्र कार्यकर्त्ता जीत का जश्न मानते हुए 
मीजो नेशनल फ्रंट क्र कार्यकर्त्ता जीत का जश्न मानते हुए |Twitter
इलेक्शन बुलेटिन

Election Result 2018: मिजोरम में मीजो नेशनल फ्रंट (MNF) की एक दशक बाद सत्ता में वापसी 

भाजपा ने पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों में खुद के दम या अन्य पार्टियों के सहयोग से सरकार गठन के बाद कांग्रेस को मिजोरम से उखाड़ फेंकने के लिए काफी जोर लगाया था।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

आइजोल: मिजोरम की 40 सदस्यीय विधानसभा में पूर्ण बहुमत सुनिश्चित करते हुए मीजो नेशनल फ्रंट(एमएनएफ) ने मंगलवार को एक दशक बाद यहां सत्ता में वापसी की है। इसके साथ ही कांग्रेस पूर्वोत्तर में अपना अंतिम गढ़ भी हार गई। 2013 विधानसभा चुनाव में केवल पांच सीटें प्राप्त करने वाले एमएनएफ ने 21 सीटे जीत ली हैं और पांच पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि सत्तारूढ़ कांग्रेस यहां केवल पांच सीटों पर ही जीत दर्ज कर सकी है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने यहां तुइचावंग सीट पर जीत दर्ज कर राज्य में अपना खाता खोला है।

मुख्यमंत्री लल थनहावला को चंपई दक्षिण और सेरछिप दोनों विधानसभा सीटों पर हार का सामना करना पड़ा है। उन्हें यहां क्रमश: एमएनएफ के टी.जे. लालनुन्टुआंगा और जोराम पीपुल्स मूवमेंट(जेडपीएम) के अध्यक्ष लालदुहोमा से हार का सामना करना पड़ा।

एमएनएफ प्रमुख और मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार जोरामथांगा आइजोल पूर्व-1 से पांचवी बार चुने गए। उन्होंने यहां निर्दलीय उम्मीदवार के. सेपदांगा को हराया।

कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे और 28 नवंबर को होने वाले चुनाव से ठीक पहले भाजपा में शामिल हुए बुद्धा धन चकमा ने चकमा जनजातीय बहुल तुइचवांग सीट पर एमएनएफ के अपने प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार को 1,594 मतों से हराया।

पांच निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है और तीन अन्य बढ़त बनाए हुए हैं।

पूर्व आईपीएस अधिकारी और जोराम पीपुल्स मूवमेंट(जेडपीएम) प्रमुख लालदुहोमा ने मुख्यमंत्री थनहावला को सेरछिप में 410 मतों से हराया। लालदुहोमा ने दो वर्ष पहले जेपीएम का गठन करने के लिए कांग्रेस छोड़ दी थी।

प्रसिद्ध आइजोल फुटबॉल क्लब(आइजोल एफसी) के मालिक राबर्ट रोमाविया रोयटे ने भी जीत हासिल की है। वह एमएनएफ के टिकट पर आइजोल ईस्ट-2 सीट से चुनाव लड़ रहे थे।

भाजपा नीत नार्थ इस्ट डेमोक्रेटिक गठबंधन(एनईडीए) के घटक दल रहे एमएनएफ ने 10 वर्षो(1998-2003 और 2003-2008) तक मिजोरम में राज किया था।

हालांकि इस बार भाजपा और एमएनएफ ने क्रमश: 40 और 39 सीटों पर अपने-अपने उम्मीदवार खड़े किए थे।

--आईएएनएस